October 30, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लेवी वसूलने आये पीएलएफआई नक्सली संदीप तिर्की को महिलाओं ने पीट-पीट कर मार डाला

कुछ ही दिन पहले जेल से छूटकर बाहर निकला था

रांची:- झारखंड में गुमला जिले के सदर थाना क्षेत्र अंतर्गत टैंसेरा निवासी प्रतिबंधित नक्सली संगठन (पीएलएफआई) संदीप तिर्की की सोमवार को सुबह महिलाओं और ग्रामीणों ने लाठी-डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार संदीप तिर्की कुछ दिन पहले ही जेल से बाहर बाहर आया था और ग्रामीणों से हथियार के बल पर लेवी वसूलने का काम कर रहा था। सुबह में भी संदीप तिर्की का लेवी वसूली को लेकर ग्रामीणों के साथ कुछ विवाद हुआ, जिसके बाद गांव की महिलाओं ने दौड़ा-दौड़ा कर लाठी डंडे से पीट-पीट कर उसे मार डाला। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने संदीप तिर्की के शव को डानटोली निवासी जगतपाल साहू के खेत से बरामद किया।
बताया गया है कि संदीप तिर्की का पिछले 10-11वर्षाें से पूरे इलाके में खौफ था। मृतक संदीप तिर्की के खिलाफ पिछले एक दशक से लेवी रंगदारी और हत्या समेत कई आपराधिक मामले दर्ज किये गये थे और काफी महीने से जेल में बंद था, लेकिन कुछ दिन पहले ही वह जेल से छूट कर बाहर आया था, जिसके बाद से गांव में दहशत और भय का माहौल था और इलाके में अपराधिक घटनाओं में बढ़ोत्तरी हुई थी। संदीप ने दो दिन पहले ही लोगों से रंगदारी की मांग की थी और परिणाम भुगतने की चेतावनी दी थी, इसी क्रम में आज सुबह वह ग्रामीणों के हत्थे चढ़ गया। बताया गया है कि वर्ष 2009 में दीपक केरकेट्टा की हत्या के विरोध में पीएलएफआई के अपराधियों ने संदीप तिर्की के परिजनों की हत्या कर दी थी।
इधर, संदीप तिर्की की पीट-पीट कर हत्या किये जाने के मामले में पुलिस ने छानबीन शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि कानून को अपने हाथ में लेने वाले को चिह्नित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: