October 30, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बेंगलुरु में सजेगा हथियारों का अंतरराष्ट्रीय बाजार, एयरो इंडिया-2021 की वेबसाइट लांच

नई दिल्ली:- बेंगलुरु के येलहंका वायु सेना स्टेशन पर एयरो इंडिया-2021 के 13वें संस्करण में 03 से 07 फरवरी तक हथियारों का अंतरराष्ट्रीय बाजार सजने वाला है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को इसके लिए वेबसाइट लांच की। इसके बाद उन्होंने एशिया के सबसे बड़े एयरो इंडिया शो की तैयारियों की समीक्षा भी की। ‘एयरो इंडिया’ विमानन क्षेत्र में हो रही प्रगति और नए विचारों को दुनिया से साझा करने के लिए बड़ा मंच है, जिसमें भारत का मकसद ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देना है।
यह सार्वजनिक एयर शो के साथ एयरोस्पेस और रक्षा उद्योगों के लिए प्रमुख प्रदर्शनियों में से एक है। यह रक्षा उद्योग को पेशेवर बाजार बनाने, नई तकनीक की घोषणा करने और मीडिया कवरेज प्राप्त करने में सक्षम बनाता है। एयरो इंडिया अंतरराष्ट्रीय विमानन क्षेत्र को व्यापार के लिए एक अनूठा मंच प्रदान करता है। एयरो इंडिया के 13वें संस्करण का आयोजन बेंगलुरु के येलहंका वायु सेना स्टेशन पर 03 से 07 फरवरी तक आयोजित किया जायेगा। एयरो इंडिया संभावित ग्राहकों और निवेशकों को अपने उत्पाद प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान करता है। इस बार एयरो इंडिया में संभावित ग्राहकों के लिए नवीनतम तकनीकों का उपयोग करके अपने उत्पादों का प्रदर्शन करने की संभावना है। अंतरराष्ट्रीय स्तर की इस प्रदर्शनी में हजारों व्यापार आगंतुकों और लाखों सामान्य आगंतुकों के भाग लेने की संभावना है। एयरो इंडिया का लोगो तेजस लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एलसीए) से प्रेरित है। तेजस एलसीए अपनी श्रेणी का सबसे छोटा और हल्का मल्टी-रोल सुपरसोनिक फाइटर एयरक्राफ्ट है। भारतीय वायु सेना और भारतीय नौसेना की जरूरतों के हिसाब से इस एकल इंजन वाले को फाइटर एयरक्राफ्ट को डिजाइन और विकसित किया गया है। लोगो के केंद्र में अशोक चक्र के साथ तेजस एलसीए का तीन रंगों वाला चिह्न इस लोगो का मुख्य मूलमंत्र है, जो न्यू इंडिया की भावना की याद दिलाता है। एयरो में ‘ए’ की परिभाषित रूपरेखा एक लड़ाकू जेट का प्रतीक है, जो यह बताता है कि एयरो इंडिया एक प्रमुख वैश्विक एयरोस्पेस प्रदर्शनी है। भारत-ब्रिटेन रक्षा उपकरण उप-समूह बैठक में एयरो इंडिया 2021 पर चर्चा हुई है। यूनाइटेड किंगडम एशिया के सबसे बड़े एयरो शो में भाग लेने के लिए उत्सुक है। ‘एयरो इंडिया’ विमानन क्षेत्र में हो रही प्रगति और नए विचारों को दुनिया से साझा करने के लिए बड़ा मंच है, जिसमें भारत का मकसद ‘मेक इन इंडिया’ को बढ़ावा देना है। भारत दुनिया में हथियारों का सबसे बड़ा बाजार हैं, ऐसे में दुनिया भर की हथियार बनाने वाली कंपनियों की नजर हर साल भारत में आयोजित होने वाले ‘एयरो इंडिया’ पर रहती है। रक्षा उपकरणों का बाजार होने के साथ ही एयरो इंडिया युद्धक विमानों के हवाई करतब के लिए भी मशहूर है। एयर शो के दौरान देश-विदेश के अत्याधुनिक जंगी विमान आसमान से गर्जना करके अपनी हवाई ताकत का प्रदर्शन करते हैं तो एयरोबैटिक टीमों के हैरतअंगेज कारनामे भी आसमान में दिखाई देते हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: