October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

महापुरुषों के पास सिखाने के लिए बहुत कुछ, युवा विवेकानंद का शिकागो भाषण पढ़े: नरेंद्र मोदी

नई दिल्ली:- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि महापुरुषों के पास पूरी मानवता को सिखाने के लिए बहुत कुछ है। उन्होने युवाओं से स्वामी विवेकानंद के उस भाषण को पढ़ने की अपील की है, जो उन्होंने वर्ष-1893 में अमेरिका के शिकागो में आयोजित हुई धर्म संसद में दिया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाषण के टेक्स्ट का लिंक भी ट्विटर पर शेयर किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार को आचार्य विनोबा भावे को भी उनकी जयंती पर याद किया। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा, आज, 11 सितंबर को हम भारत में दो महत्वपूर्ण मील के पत्थर चिह्न्ति करते हैं। आचार्य विनोबा भावे की जयन्ती और जिस दिन स्वामी विवेकानंद ने शिकागो में अपना उत्कृष्ट भाषण दिया। इन महापुरुषों के पास पूरी मानवता को सिखाने के लिए बहुत कुछ है। उन्होंने आगे कहा, 1893 में स्वामी विवेकानंद के संबोधन ने भारत के लोकाचार की भावना और उन मूल्यों का पूर्ण प्रदर्शन किया जो हमारी भूमि का एक अभिन्न अंग हैं। मैं युवाओं से उनके भाषण को पढ़ने का आग्रह करता हूं। बता दें कि कोलकाता में 12 जनवरी, 1863 को जन्मे स्वामी विवेकानंद ने अमेरिका के शिकागो की धर्म संसद में वर्ष 1893 में भाषण देकर सनातन धर्म और संस्कृति की पूरी दुनिया में छाप छोड़ी थी। उन्होंने कहा था, मुझे गर्व है कि मैं उस धर्म से हूं जिसने दुनिया को सहिष्णुता और सार्वभौमिक स्वीकृति का पाठ पढ़ाया है। हम सिर्फ सार्वभौमिक सहिष्णुता पर ही विश्वास नहीं करते बल्कि, हम सभी धर्मों को सच के रूप में स्वीकार करते हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: