October 29, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना: बिहार में मृत्यु दर सबसे कम

पॉजिटिव रेट की हालत भी ठीक
पटना:- बिहार में प्रदेश की मृत्यु दर बाकी राज्यों के मुकाबले सबसे कम है। राज्य की मृत्यु दर पर नजर डाले तो प्रति लाख में बिहार- 6, केरल और असम 10 हैं। वहीं बात अगर पॉजिटिव रेट की करें तो उसमें भी बिहार की हालत ठीक है। टेस्ट पॉजिटिव दर प्रति लाख में बिहार में 0.9फीसदी, वहीं गुजरात में 1.3फीसदी और उत्तरप्रदेश में 4.3 फीसदी हैं। बिहार में 22 मार्च से लेकर अब तक कोरोना के 1,52,192 केस सामने आए हैं। इनमें से 775 लोगों की मौत हो चुकी है जिसमें सबसे ज्यादा राजधानी पटना के 178 पीड़ित थे। टेस्टिंग की तादाद भी काफी तेजी से बढ़ी है। एक्टिव केस की बात करें तो बिहार में फिलहाल 15 हजार से कुछ ही ज्यादा मरीज ऐसे हैं जिनका या तो इलाज चल रहा है या तो फिर वो होम आइसोलेशन में हैं। बिहार में सरकारी आंकड़ों के लिहाज से कोरोना के डेढ़ लाख से ज्यादा मामलों में सिर्फ 15,625 केस ही एक्टिव हैं। प्रदेश में डेढ़ लाख लोगों में से 1,35,791 लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। हालांकि मौत का आंकड़ा 775 है। बात अगर सोमवार की करें तो इस दिन एक लाख 51 हजार लोगों के सैंपल लिए और फिर जांचे गए। इन डेढ़ लाख सैंपल में से सिर्फ 1369 लोग ही पॉजिटिव पाए गए। प्रतिशत के हिसाब से देखें तो कुल सैंपल में से 0.90फीसदी लोग ही पॉजिटिव मिले। यानि कोरोना के मामले घटने का संकेत। बिहार में अनलॉक के दौरान कोरोना के बढ़ते मामलों के पीछे आमलोगों की लापरवाही जिम्मेवार थी। लेकिन जब बीमारी घर की दहलीज पर पहुंच गई तो पास-पड़ोस ने भी सबक लेना शुरू किया।

Recent Posts

%d bloggers like this: