October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आरजेडी के मिशन को अखिलेश यादव का समर्थन

बोले-आइए उनकी आवाज में आवाज मिलाएं

पटना:- बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों के ऐलान का इंतजार खत्म ही होने वाला है। इसके बीच सभी सियासी दल अपनी रणनीतियों पर आगे बढ़ रहे हैं। इसी क्रम में विपक्ष में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अपील की है कि बेरोजगारी और सरकारी संस्थाओं के निजीकरण के खिलाफ राज्यवासी बुधवार यानी 9 सितम्बर को 9 बजे रात में 9 मिनट तक के लिए घर का लाइट ऑफ कर एक दीया, लालटेन या मोमबत्ती जलाएं। तेजस्वी ने एक दिन पहले मंगलवार को रात में इसको लेकर ट्विटर पर मैसेज दिया और फेसबुक लाइव भी किया और लोगों से इस अभियान में जड़ने का आह्वान किया। तेजस्वी ने कहा कि यह राजद (आरजेडी ) का आंदोलन नहीं है। बेरोजगार युवक और कुछ स्वयंसेवी संस्थाओं ने यह आंदोलन शुरू किया है। राजद उसका भरपूर समर्थन करता है। साथ ही बेराजगारों के हाथ में हाथ मिलाकर नौ मिनट के लिए तय समय पर मोमबत्ती या लालटेन जलाने की अपील करता है। वह खुद अपनी मां राबड़ी देवी के साथ तय समय पर अपनी छत पर लालटेन लेकर खड़ा रहेंगे। बिहार के नेता प्रतिपक्ष की इस मुहिम में अब उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने समर्थन किया है।
गौरतलब है कि तेजस्वी यादव लगातार केंद्र की मोदी सरकार और बिहार की नीतीश सरकार को लगातार बेरोजगारी के मुद्दे पर घेरते रहे हैं। इसी क्रम में उन्होंने आरोप लगाया कि बहुत से व्यवसाइयों और छोटे व्यापार करने वालों का धंधा-रोजगार बंद हो गया है। सरकार की ओर से भर्ती बंद कर दी गई है। कई साल से परीक्षा नहीं ली जा रही। नौकरियों और आवेदन फॉर्म की फीस के नाम पर सरकार ने अरबों रुपए वसूल कर पूंजीपतियों में बांट दिए। बिहार में गरीबी दर 52 प्रतिशत है। प्रदेश का हर दूसरा परिवार पलायन को मजबूर है। लोगों को शिक्षा और रोजगार के लिए पलायन करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अगर राजद को मौका मिला तो किसी भी जाति धर्म का कोई काबिल युवक बेरोजगार नहीं रहेगा। इसके लिए विशेषज्ञों की टीम रोडमैप बना रही है और जल्द ही हम रोडमैप के साथ युवकों के सामने आएंगे। गौरतलब है कि आरजेडी ने बेराजगार युवकों के निबंधन के लिए वेबसाइट और टोलफ्री नम्बर जारी कर दिया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: