October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आशिक बोला तुम किसी गैर को चाहोगी तो मुश्किल होगी… और तमंचा लहरा दागी धांय -धांय गोलियां

भागलपुर:- ललमटिया थाना क्षेत्र के रहमतुल्लापुर में एकतरफा प्यार की सनक में आदित्य नामक आशिक ने छात्रा के घर जाकर प्यार का इजहार तमंचे लहरा कर किया। हसरत पूरी हुई तो हवा में दनादन गोलियां भी दागी। स्नातक की पढ़ाई कर रही छात्रा से प्यार होने की बात कह मंगलवार को साथियों संग छात्रा के घर पहुंच गया। घर के आगे सनकी ने शोर मचा छात्रा से प्यार का इजहार करने लगा। उसकी हरकत से छात्रा और उसके परिजन घबरा गए। इस बीच कुछ लोग छात्रा पक्ष के समर्थन में जमा होने लगे।
जिसे देख सनकी और शोर मचाने लगा। बोलने लगा तुम मेरी हो। मेरी ही रहोगी। किसी और की होने नहीं दूंगा। कोई जवाब नहीं मिलने पर उसने तमंचे निकाल शोर मचाने लगा। उस दौरान चिल्ला-चिल्ला कर बोलता रहा तुम्हें हमसे प्यार करना ही होगा। सामने जाने की लोगों को हिम्मत नहीं हुई। इस बीच छात्रा या परिजन की तरफ से हामी नहीं भरने पर उसने तमंचा हवा में लहराया। फिर एक के बाद एक तीन गोलियां हवा में दागी। गोलियां चलने के बाद सनकी के साथ पहुंचे साथी भाग निकले। वह अकेला वहीं तमंचा लहराता रहा। तब तक छात्रा के स्वजन और आसपास के लोगों ने सनकी को घेर कर पकड़ लिया। उसके हाथ से तमंचे छीन ललमटिया पुलिस को बुलाकर उसे उनके हवाले कर दिया। सनकी पुलिस गिरफ्त में भी यही कहता रहा वह मेरी है। किसी और की होने नहीं दूंगा। मेरे प्यार का भरोसा करो। अगर तुमसे प्यार नहीं होता तो हवा में गोलियां दागने के बजाय किसी की जान ले लेता। पुलिस सनकी की खबर लेते हुए थाने लाई। पीडि़त छात्रा के बयान पर केस दर्ज किया गया है।

सजौर का रहने वाला है आदित्य

आदित्य सजौर थाना क्षेत्र के रजनपुर गांव का रहने वाला है। मोहल्ले में किराए का कमरा लेकर रहता था। बीते एक साल से बेटी को परेशान कर रखा था। स्नातक की पढ़ाई कर रही बेटी को कॉलेज जाते-आते रास्ता रोक लेता। बेटी घर आकर अपनी पीड़ा बताती। पूरा परिवार उससे परेशान हो गया था। बेटी ने डर से पढ़ाई छोड़ रखी थी।
..

मोहल्ले में रहने वाले आदित्य ने छात्रा को इकतरफा इश्क में इस कदर परेशान कर रखा था कि वह घर से निकला छोड़ दिया था। छत पर कपड़े फैलाने जाती तो वह दूसरे की छत पर उसे देखने की चाहत लिए पहले से खड़ा रहता था। उसकी अजीबोगरीब हरकत से छात्रा का जीना मुहाल हो गया था। कॉलेज जाना छोड़ा और ट्यूशन जाने लगी तो वहां भी पीछे पड़ जाता था। पीछा कर यही कहता कि तुम किसी गैर को चाहोगी तो मुश्किल होगी। जबकि छात्रा उसकी कभी दीवानी रही ही नहीं। वह उसकी हरकतों से परेशान घर वालों को शिकायत कर चुप हो जाती। घर वाले भी तनाव में थे। हमेशा परेशान करता था। मोहल्ले में रहने के कारण जाने कैसे घर का मोबाइल नंबर पता कर फोन से भी परेशान करने लगा था। सोमवार को वह छात्रा के पिता से उलझ गया। उन्हें देख लेने की धमकी दी। मंगलवार की सुबह दस बजे उसने हंगामा ही खड़ा कर दिया। उसके साथ आए लड़कों में छोटू और मंगल भी थे जो मोहल्ले के ही हैं। पुलिस से पिता ने परिवार की सुरक्षा की भी गुहार लगाई है।

Recent Posts

%d bloggers like this: