October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बारिश बनी आफत, तेज बारिश में बाइक सवार दो युवक नाले में बहे, एक को बचाया

गिरिडीह ,रामगढ़, लातेहार में वज्रपात की अलग-अलग घटनाओं में छह की मौत

रांची:- झारखंड की राजधानी रांची में सोमवार शाम को करीब एक घंटे की हुई झमाझम बारिश कई लोगों के लिए आफत साबित हुई। राजधानी में हुई जोरदार बारिश के कारण कुछ ही मिनटों में सड़कों पर नदियों का नजारा दिखने लगे, वहीं निचले इलाके में रहने वाले झुग्गी-झोपिड़यों से लेकर सैकड़ों घरों में पानी भर गया। वहीं सदर थाना क्षेत्र के कोकर में मोटरसाईकिल सवार दो युवक नाले की तेज धार में बह गये, जिसमें से एक युवक को स्थानीय लोगों की मदद से बचा लिया गया, जबकि दूसरे युवक की खोजबीन जारी है। वहीं गिरिडीह, रामगढ़ और लातेहार जिले में वज्रपात की अलग-अलग घटनाओं में छह लोगों की मौत हो गयी।
शहर में हुई कुछ ही मिनटों की हुई जोरदार बारिश में रिम्स का इमरजेंसी वार्ड भी पूरी तरह से जलमग्न हो गया, जिसके कारण मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। वहीं महिला थाने समेत कई सरकारी भवनों में पानी भर जाने के कारण वहां काम करने वाले लोगों को काफी कठिनाईयों का सामना करना पड़ा।
राजधानी रांची के इंद्रपुरी, आर्यपुरी, पिस्का मोड़, मिशन रोड, कर्बला टैंक रोड, अपर बाजार, रमजान कॉलोनी, बरियातू रोड, लैंक टैंक रोड समेत कई सड़कें बारिश और नाली के पानी से लबालब भर गयी। कई जगहों पर सड़कों पर गड्ढे होने के डर से लोग सड़क पार करने से डरते रहे। वहीं गली, मुहल्लों और कॉलोनी में भी बारिश का पानी सड़कों पर आ गया। बारिश के कारण शहर के विभिन्न हिस्सों में घंटों बिजली आपूर्ति व्यवस्था बाधित रही।
वहीं गिरिडीह में आकाशीय बिजली गिरने से दो की मौत हुई है। पहली घटना में सरिया थाना क्षेत्र में बागोडीह के पास 16 वर्षीय सुजीत पंडित की मौत हुई है । वह घर की छत से नीचे उतर रहा था तभी वज्रपात हुई। दूसरी घटना में जिले के बिरनी थाना क्षेत्र के भतूडीह में ब्रम्हदेव स्वर्णकार की 40 वर्षीया पत्नी की मौत स्नान करते वक्त वज्रपात होने से हो गई । उधर कल गावां थाना इलाके में भी एक व्यक्ति की वज्रपात से मौत हो चुकी है।
इधर, रामगढ़ जिले के सदर थाना क्षेत्र में वज्रपात से दो ग्रामीण की मौत हो गयी। बताया गया है स्थानीय निवासी भीमनाथ महतो और खिरोधर महतो मवेशी चराने के लिए जंगल की तरफ गए हुए थे। इसी दौरान अचानक वहां बारिश शुरू हो गई। बारिश से बचने के लिए दोनों महुआ के पेड़ के नीचे छुप गए। इसी दौरान वहां वज्रपात हुआ, जिसकी चपेट में दोनों ग्रामीण आ गए। सूत्रों ने बताया कि हादसे में दोनों ग्रामीण की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। स्थानीय लोगों की सहायता से शवों को जंगल से उठाकर गांव में लाया गया। घटना की सूचना पाकर रामगढ़ पुलिस गांव में पहुंची और शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया।
उधर, लातेहार जिले के बरवाडीह थाना क्षेत्र में भी 16वर्षीय एक नाबालिग युवक की मौत वज्रपात में हो गयी। बताया गया है कि युवक जंगल में गाय चराने गया था, इस बीच बारिश शुरू होने पर वह पेड़ के नीचे पहुंचा, इसी दौरान वज्रपात की घटना में उसकी मौत हो गयी।

Recent Posts

%d bloggers like this: