October 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कमाने जाने की बात कह कर बंगाल जाने के लिए घर से निकला था।जगेशर उर्फ किटोईया भुइयां 18 साल के बाद लौटा अपना घर

बारियातू (लातेहार) :- बारियातू प्रखंड मुख्यालय अंतर्गत गाड़ी गांव के लोदमदाग टोला निवासी जगेशर उर्फ किटोईया भुइयां 18 साल के बाद शुक्रवार को अपने घर लौटा। जानकारी देते हुए पत्नी शकुंती देवी ने बताया कि मेरे पति 2002 में कमाने जाने की बात कह कर बंगाल जाने के लिए घर से निकले थे। उसके बाद से कोई पता नहीं चला कि वह कहां हैं। अचानक वह शुक्रवार को घर पहुंचे तो परिवार में खुशी का ठिकाना नहीं रहा। वर्ष 2002 में मेरे पति अचानक बीमार हो गए। इलाज कराया गया। ठीक तो हो गए पर दिमागी संतुलन खराब हो गया था और घर के लोगों को परेशान करने लगे थे। इस बीमारी का उस समय कई डाक्टरों से इलाज करवाया। कुछ ठीक होते ही मेरे घर में आग लग गई थी, जिस कारण घर की आर्थिक स्थिति बिल्कुल खराब हो गई।

घर की स्थिति को देखते हुए वह कमाने के लिए बंगाल जाने की बात कह कर घर से निकल गए थे। उस समय घर में तीन बेटियां मीना कुमारी, हेवंती कुमारी, बेबी कुमारी और एक पुत्र संजय भुइयां चारों छोटे थे। एक वर्ष तक पति की कोई खबर न मिली हम सभी ने उनकी काफी खोजबीन की। मगर उनका कोई पता नहीं चला तो हमलोग थक हार कर पति के वापस आने की उम्मीद खो चुके थे। लेकिन ईश्वर की कृपा से हमारे पति 18 वर्ष बाद घर लौटकर आ गए।निकला ग्रामीण 18 वर्ष बाद लौटा

Recent Posts

%d bloggers like this: