October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कोरोना संकट के दौरान अमेरिका के ऊपर मंडरा रहा है ये भयानक खतरा

नई दिल्ली:- Covid-19: अमेरिका की सरकार का बजट घाटा रिकार्ड 3,300 बिलियन डॉलर पहुंच जाने का अनुमान है कोरोना वायरस से निपटने के लिये जारी उपायों पर हो रहे खर्च अर्थव्यवस्था को गति देने के लिये 2,000 अरब डॉलर से अधिक के प्रोत्साहन उपायों को देखते हुए बजट घाटा रिकार्ड स्तर पर पहुंचने की उम्मीद है। कांग्रेस बजट कार्यालय ने यह अनुमान व्यक्त किया है की घाटे में वृद्धि का अर्थ है कि संघीय कर्ज अगले वर्ष सालाना जीडीपी को पार कर जाएगा।

पर्सनल इनकम टैक्स पिछले वर्ष के मुकाबले 11 % कम है:

यह हालत ठीक वैसी ही होगी जैसा कि वर्ल्ड वॉर- 2 के बाद हुई थी। उस वक़्त संचयी कर्ज अर्थव्यवस्था के आकार से भी अधिक हो गया था। बुधवार को जारी किये 3,300 बिलियन डॉलर का अनुमान 2019 के घाटे से तीन गुना से भी बड़ा है। वर्ष 2008-09 में आयी नरमी के स्तर से दो गुना है। एक तरफ जहां सरकार के खर्च बढ़ रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ मंदी की वजह से कर राजस्व कम हुआ है। व्यक्तिगत आयकर संग्रह पिछले साल के मुकाबले 11 % कम है जबकि कंपनी टैक्स संग्रह 34 % कम चल रही है। Covid-19 को रोकने के लिये अर्थव्यवस्था को बंद किया गया था। इसका प्रभाव अर्थव्यवस्था लोगों के रोजगार पर पड़ा है। 1,200 डॉलर का सीधे भुगतान प्रोत्साहन उपायों की घोषणा की गयी। इससे अल्पकाल में अर्थव्यवस्था को राहत मिली। बढ़ते खर्च को देखते हुए सांसद व्हाइट हाउस पांचवें वायरस राहत पैकेज के आकार को लेकर आपस में उलझ रहे हैं। रिपब्लिकन सांसदों में कोरोना महामारी से निपटने को लेकर बढ़ती लागत को लेकर चिंता बढ़ने लगी है, जबकि डेमोक्रेटिक नियंत्रण वाले सदन ने मई में 3,500 अरब डॉलर के पैकेज को पारित किया था। सदन की अध्यक्ष नैंसी पेलोसी ने इस कम कर 2,200 बिलियन डॉलर करने की इच्छा ज़ाहिर की है।

Recent Posts

%d bloggers like this: