October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राष्ट्रपति पहली बार 47 शिक्षकों को वर्चुअल माध्यम से प्रदान करेंगे ‘राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार’

गुजरात और उत्तर प्रदेश से 3-3 शिक्षक होंगे पुरस्कृत

दिल्ली सहित 10 राज्यों के 2-2 शिक्षक

नई दिल्ली:- राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शनिवार को शिक्षक दिवस के मौके पर पहली बार 47 शिक्षकों को वर्चुअल माध्यम से ‘राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार’ प्रदान करेंगे। इस मौके पर केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल निशंक भी मौजूद रहेंगे। कोरोना के मद्देनजर देशभर के तमाम शिक्षकों ने समारोह को डिजिटल माध्यम से आयोजित करने का आग्रह किया था। शिक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने शुक्रवार को बताया कि मंत्रालय द्वारा गठित स्वतंत्र निर्णायक मंडल ने 153 शॉर्टलिस्ट किए गए शिक्षकों के आवेदनों पर डिजिटल माध्यम से संपर्क कर विचार किया और विशेष श्रेणी के तहत 2 शिक्षकों सहित देशभर के 36 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों से कुल 47 शिक्षकों का चयन ‘राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार’ के लिए किया गया। इनमें केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई), दिल्ली एटॉमिक एनर्जी एजुकेशन बोर्ड, नवोदय विद्यालय समिति, एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय और काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन भी शामिल हैं। इस साल गुजरात और उत्तर प्रदेश से 3-3 शिक्षकों को पुरस्कृत किया जाएगा। इसके अलावा दिल्ली, मध्य प्रदेश, बिहार, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, जम्मू कश्मीर, सिक्किम, झारखंड, कर्नाटक और तमिलनाडु से दो-दो शिक्षकों को सम्मानित किया जाएगा। वहीं हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड, राजस्थान, गोवा, लद्दाख, तेलंगाना, छत्तीसगढ़, मेघालय, त्रिपुरा, असम, केरल, आंध्र प्रदेश, महाराष्ट्र और पुडुचेरी से एक-एक शिक्षक को सम्मानित किया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पिछले साल राष्ट्रपति ने विज्ञान भवन में 46 उत्कृष्ट शिक्षकों को राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार प्रदान किया था। यह पुरस्कार ऐसे मेधावी शिक्षकों को दिया जाता है, जिन्होंने अपनी प्रतिबद्धता के माध्यम से न केवल स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार किया है, बल्कि अपने छात्रों के जीवन को भी समृद्ध किया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: