October 19, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बड़ी खबर: पीएम नरेंद्र मोदी ने पीएम केयर्स फण्ड की शुरुआत अपनी बचत के 2.25 लाख रुपये दान देकर की थी

ये रकम पीएम ने अपनी तनख्वाह से चुकाई थी, खुद को मिले तोहफों की नीलामी से 103 करोड़ से ज्यादा दान कर चुके हैं

नई दिल्ली:- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सामाजिक कामों के लिए करोड़ों रुपए दान कर चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक, मोदी बच्चियों की शिक्षा से लेकर गंगा सफाई अभियान के लिए अपनी बचत के पैसे से दान दे चुके हैं। कोरोना से लड़ाई के लिए बनाए गए पीएम केयर्स फंड में वे 2.25 लाख दान कर चुके हैं। वहीं, खुद को मिले तोहफों की नीलामी से मिले 103 करोड़ रुपए भी प्रधानमंत्री डोनेट कर चुके हैं।

सूत्रों का यह भी कहना है कि मोदी स्वास्थ्य सेवाओं, किसी भी तरह, प्राकृतिक आपदा में व्यक्तिगत रूप से मदद करते रहते हैं। बुधवार को जानकारी सामने आई थी कि मार्च में बने पीएम केयर्स फंड में महज 5 दिन में 3076 करोड़ रुपए जमा हो गए थे।

इस तरह से दान देते रहे हैं प्रधानमंत्री मोदी

2019 में उन्होंने अपनी निजी बचत से 21 लाख रुपए कुंभ मेले के सफाईकर्मियों के कल्याण के लिए दिए थे।
2019 में ही मोदी को साउथ कोरिया का सिओल पीस प्राइज मिला था। उन्होंने ऐलान किया था कि 1.30 करोड़ की प्राइज मनी को नमामि गंगे प्रोजेक्ट के लिए दान कर देंगे।
हाल ही में प्रधानमंत्री को मिले तोहफों की नीलामी में 3.4 करोड़ रुपए इकट्ठे हुए। उन्होंने इसे भी नमामि गंगे परियोजना में दान कर दिया।
2014 में गुजरात के मुख्यमंत्री का पद छोड़ने (प्रधानमंत्री बनने के बाद) के बाद मोदी ने अपने पूर्व स्टाफ की बेटी की शादी के लिए 21 लाख का दान दिया था। ये पैसे उनकी खुद की बचत के थे।
गुजरात का मुख्यमंत्री रहने के दौरान भी मोदी को कई तोहफे मिले। इनकी नीलामी से मिल 89.96 लाख को उन्होंने बच्चियों की शिक्षा के लिए बने कन्या केलवानी फंड में दान कर दिया।
प्रधानमंत्री मोदी को 2015 तक मिले उपहारों की भी नीलामी की गई थी। इसे मिले 8.35 करोड़ रुपए भी नमामि गंगा परियोजना के लिए दान कर दिए गए थे।

पीएम केयर्स फंड क्या है?

सरकार ने 28 मार्च को पब्लिक चैरिटेबल ट्रस्ट के तौर पर यह फंड बनाया था। इसका मकसद कोरोना जैसी इमरजेंसी से निपटने का इंतजाम करना था। कोरोना काल में कॉरपोरेट से लेकर इंडिविजुअल तक ने इस फंड में डोनेशन दिया।

Recent Posts

%d bloggers like this: