October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राज्य ने अनुमति नहीं दी, कोलकाता फिर ‘बंदे भारत परियोजना’ की सूची में नहीं

कोलकाता:- विदेशों में फंसे भारतीय नागरिकों को वापस लाने की केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी “बंदे भारत” उड़ान परियोजना की सूची में इस बार भी कोलकाता नहीं है। यानी दुनिया भर के देशों में फंसे पड़े बंगाल के निवासी अपने राज्य में वापस नहीं आ सकेंगे। इसकी वजह है कि पश्चिम बंगाल सरकार ने एक बार फिर विदेशों से उड़ान को कोलकाता में लैंड करने की अनुमति नहीं दी। परियोजना के छठे चरण में बंदे भरत द्वारा घोषित उड़ान अनुसूची में कोलकाता के लिए एक भी उड़ान नहीं है। शेड्यूल के अनुसार, दिल्ली से कोलकाता के लिए एक फ्लाइट बुधवार को उड़ान भरेगी और यहां फंसे पड़े यात्रियों को लेकर चीन के शंघाई रवाना हो जाएगी। 10 सितंबर को एक और फ्लाइट दिल्ली से आएगी और कोलकाता में फंसे यात्रियों को लेकर चीन जाएगी। नवन्ना के एक सूत्र के मुताबिक, राज्य सरकार बंदे भारत के लिए सीधी उड़ान की अनुमति नहीं देने के बारे में अडिग है। क्योंकि उस उड़ान पर पिछले दो मामलों में, यात्री कोलकाता आए और संगरोध नियमों का पालन किए बिना सीधे घर चले गए। तब से, राज्य ने बंदे भारत के लिए उड़ानें बंद कर दी हैं। दूसरी ओर, ट्रैवल एजेंट्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया ईस्ट इंडिया के अध्यक्ष, मनब सोनी ने कहा कि अगर राज्य सरकार उड़ानों के लिए हरी झंडी देती है तो विदेशी एयरलाइंस फंसे हुए यात्रियों को कोलकाता ला सकती हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: