October 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

आठ सितम्बर से खुलेगा भूतनाथ मंदिर, सुरक्षा मानकों का रखा जाएगा ख्याल

कोलकाता:- कोलकाता स्थित भक्तों की आस्था का केंद्र भूतनाथ मंदिर 8 सितंबर से खुल जाएगा। कोलकाता और आस-पास के कोने-कोने से भक्त यहां आते हैं। राज्य भर के सभी बड़े-बड़े मंदिर खुल गये थे, लेकिन बाबा भूतनाथ का दरबार अब तक बंद था। ऐसे में भक्त भी पूछ रहे थे कि आखिर क्यों बंद है भूतनाथ मंदिर? हालांकि अब भक्तों के सवालों का जवाब भी सामने आ गया है। गत दिनों मंदिर प्रबंधन कमेटी व स्थानीय प्रशासन की बैठक में आगामी 8 सितंबर से मंदिर खोलने का निर्णय लिया गया है। इस बैठक में राज्य की मंत्री डॉ. शशि पांजा, स्थानीय पार्षद विजय उपाध्याय, मंदिर ट्रस्टी और पुजारीगण मौजूद थे। भूतनाथ में प्रसाद चढ़ाने की अनुमति नहीं होगी। केवल मंदिर में स्पर्श कराकर भक्त प्रसाद घर में ले जा सकेंगे। मंदिर प्रबंधन की ओर से अपील की गयी है कि लोग मास्क पहनकर मंदिर आयें और सोशल डिस्टेंसिंग समेत सभी सुरक्षा नियमों का पालन करें। भूतनाथ मंदिर के आस – पास काफी संख्या में दुकानें हैं जिनमें फूल व प्रसाद बेचकर दुकानदार अपना गुजारा करते हैं। इनका चूल्हा भी तब जलता है जब फूल और प्रसाद बेचकर ये लोग पैसे लेकर अपने घर जाते थे। अब तक मंदिर बंद रहने से ये फूल व प्रसाद बेचने वाले किसी तरह गुजारा कर रहे थे। वहीं, भूतनाथ मंदिर के अंदर जाने से पहले भक्त अपनी चप्पलें उतारकर मंदिर के पास बैठे लोगों के पास रखते थे। इससे उन लोगों की भी कुछ आय हो जाती थी। हालांकि मंदिर बंद रहने के कारण इन लोगों की भी कमाई बंद है। मंदिर प्रबंधन हिंदू सत्कार समिति के प्रशासनिक अधिकारी महेश ठाकुर ने बताया कि फिलहाल केवल श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए ही मंदिर खोला जाएगा और गर्भगृह में जाने की अनुमति नहीं होगी। शाम 4 से 7 बजे तक मंदिर खुला रहेगा और उसके बाद आरती कर मंदिर बंद कर दिया जाएगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: