October 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पुलिस मुख्यालय ने आईपीएस अनूप बिरथरे को भेजा कारण बताओ नोटिस

रांची:- झारखंड पुलिस मुख्यालय की ओर से आईपीएस अनूप बिरथरे को कारण बताओ नोटिस भेजा गया है। इन पर पांच अलग-अलग फोन नंबर की कॉल डिटेल निकालने का आरोप है। मामले को लेकर मुख्यालय ने 15 दिनों के अंदर जवाब देने को कहा हैं। उल्लेखनीय है कि जमशेदपुर के पूर्व एसएसपी अनुप बिरथरे ने पूर्व डीजीपी डीके पांडेय के मौखिक आदेश पर 5 मोबाइल नंबर का सीडीआर निकाला था। इन पांचों नंबर के निकाले सीडीआर का उपयोग मुकदमे में किया गया था। इस पूरे मामले की जांच सीआईडी ने की थी। सीआईडी ने जांच में अनूप गिरफ्तारी के खिलाफ लगे आरोप को सही पाया और उन्हें दोषी करार दिया है। इस मामले में अनूप बिरथरे के खिलाफ आपराधिक मामला भी दर्ज हो सकता है। वर्तमान में अनूप बिल्थरे जैप-9 के कमांडेंट के पद पर पदस्थापित हैं। मालूम हो कि पूर्व डीजीपी डी के पांडेय, उनकी पत्नी और बेटे के खिलाफ दहेज प्रताड़ना को लेकर उनकी बहू रेखा मिश्रा ने महिला थाना रांची में मामला दर्ज कराया था । डी के पांडेय के बेटे ने कोर्ट में तलाक के लिए मामला दायर किया था। इस मामले में कोर्ट ने एकतरफा फैसला उनके पक्ष में सुनाया था। अदालत में डी के पांडेय की तरफ से पांच नंबरों का सीडीआर जमा कराया गया था। इसी आधार पर रेखा मिश्रा पर विवाह के बाद दूसरे युवक से संबंध रखने का आरोप लगाया गया था। जिन पांच नंबरों का सीडीआर जमा कराया गया था उसमें दो नंबर रेखा मिश्रा और बाकी तीन नंबर पीयूष विजयवर्गीय के थे। यह सीडीआर अनूप बिरथरे ने तत्कालीन डीजीपी डी के पांडेय के मौखिक आदेश पर निकाले थे।

Recent Posts

%d bloggers like this: