October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अन्य राज्यों से आने वाले श्रद्धालुओं को अभी बाबा मंदिर में पूजा की अनुमति नही:- उपायुक्त

देवघर:- माननीय उच्चतम न्यायालय व राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार झारखंड राज्य के आम श्रद्धालुओं के लिए बाबा बैद्यनाथ मंदिर का पट खोला गया है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते खतरे को देखते हुए दूसरे राज्य से आने वाले श्रद्धालुओं को दर्शन की अनुमति नहीं दी गई है। इसके अलावे झारखंड राज्य के अलावा अन्य राज्यों से देवघर आनेवाले लोगों को पहले क्वारंटाइन किया जाएगा। ऐसे में नियमों का पालन न करने या उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। वर्तमान में प्रतिदिन 200 भक्तों के मंदिर में प्रवेश करने की सीमा निर्धारित की गई है। इसके अलावे सामाजिक दूरी का अनुपालन सुनिश्चित करने के उद्देश्य से प्रति घंटे अधिकतम 50 की संख्या में श्रद्धालुओं को दर्शन हेतु अनुमति दी जा रही है। जिसके तहत सिर्फ झारखंड राज्य के ही श्रद्धालु होने चाहिए। झारखंड के बाहर से दूसरे राज्यों के भक्तों के देवघर में प्रवेश पर प्रतिबंध है। ऐसे में कोविड-19 के प्रभाव को देखते हुए अन्य राज्यों से आने वाले भक्तों से कोरोना वायरस संक्रमण फैलने का डर ज्यादा रहता है।

महत्वपूर्ण दिशा निर्देश

1. बच्चें, स्वास्थ्य लाभ ले रही महिलाएं के अलावा 65 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को सलाह दी गई है कि वे घर पर रहें और धार्मिक स्थलों पर जाने से बचें।
2. हैंड सैनिटाइजर रखना जरूरी है, इसके अलावा गेट पर थर्मल स्क्रीनिंग अनिवार्य की गई है।
3. मंदिर में खांसी, बुखार, जुकाम जैसे लक्षणों वाले लोगों को मंदिर परिसर में जाने की अनुमति नहीं होगी।
4. फेस सील्ड या मास्क पहनकर ही भक्त मंदिर में जा पाएंगे।
5. मंदिर में भीड एकत्र न हो इसके लिए कहा गया है कि भक्तों को एक-एककर घुसने की अनुमति दी जाये।
6. मंदिर परिसर में प्रवेश करने से पहले साबुन और पानी से हाथ और पैर धोने के लिए कतार में लगते समय कम से कम 6 फीट की दूरी बनाएं रखें।
7. मंदिर परिसर व आसपास के क्षेत्रों में थूकना सख्त वर्जित किया गया है।
8. बाबा मंदिर आने वाले सभी भक्तों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोन करना जरूरी किया गया है।
9. मंदिर प्रबंधन को आसपास और मंदिर प्रांगण के फर्श और अन्य सतहों की लगातार साफ-सफाई करने का निर्देश दिया गया है।
10. आदेश के उल्लंघन को लेकर दूसरे राज्यों से बाबा मंदिर आने वाले श्रद्धालुओं को किया जाएगा क्वारंटाइन।

Recent Posts

%d bloggers like this: