October 30, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

अगले हफ्ते भी शेयर बाजार में तेजी जारी रहने की है संभावना: विश्लेषक

मुंबई:- बीते 28 अगस्त को समाप्त हुए सप्ताह के दौरान भारतीय शेयर बाजार उच्च स्तर पर चढ़कर बंद हुआ। अगले हफ्ते भी बाजार में तेजी बने रहने की संभावना विश्लेषकों ने जताई है। ज्ञात हो कि बीते सप्ताह बीएसई सेंसेक्स 1,032.59 अंक यानी 2.69 फीसदी बढ़कर 39,467.31 पर बंद हुआ, जो 26 फरवरी, 2020 के बाद का उच्चतम स्तर था। निफ्टी भी करीब 527 अंक यानी 2.43 फीसदी बढ़कर 11,647.60 अंक पर बंद हुआ। अगले हफ्ते भी चार-पांच कारक है जो शेयर बाजार को व्यस्त रखेंगे और साथ ही इसमें इसकी तेजी की संभावना को बनाए रखेंगे। अगले हफ्ते ऑटोमोबाइल के साथ-साथ ऑटो सहायक स्टॉक भी फोकस में रहेंगे, क्योंकि अगस्त की बिक्री के आंकड़े पहली सितंबर को जारी किए जाएंगे। विश्लेषकों को मोटे तौर पर सामान्य मॉनसून और बेहतर ग्रामीण विकास से ऊपर दिए गए ट्रैक्टरों की अच्छी मांग जारी रहने की उम्मीद है, जबकि दोपहिया और यात्री वाहनों की बिक्री के क्रम में और सुधार होने के साथ-साथ कम सूची और उत्पादन को सामान्य बनाने की उम्मीद है, जिसमें बेहतर मांग भी शामिल है। ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों से त्योहारों की अगुवाई सरकार द्वारा सुरक्षा और अनलॉक उपाय दिए गए हैं। हालांकि, वाणिज्यिक वाहन की बिक्री को अतिरिक्त क्षमता को देखते हुए कमजोर किया जा सकता है, हालांकि निर्माण कंपनियों की मांग में कुछ सुधार हुआ है। केंद्रीय सांख्यिकी संगठन 31 अगस्त को वित्त वर्ष 2020 21 की पहली तिमाही का जीडीपी डेटा जारी करेगा, जो देश के भीतर तैयार माल और सेवाओं के अंतिम मूल्य को मापता है। विशेषज्ञों को मोटे तौर पर कोविड-19 के नेतृत्व वाले लॉकडाउन के कारण धीमी आर्थिक रिकवरी को देखते हुए दोहरे अंकों में संकुचन की उम्मीद है। अन्य आर्थिक डेटा बिंदुओं के बीच, जुलाई के लिए फिस्कल डेफिसिट और इन्फ्रास्ट्रक्चर आउटपुट उसी दिन जारी किया जाएगा, जबकि अगस्त के लिए मार्किट मैन्युफैक्चरिंग पीएमआई और सर्विसेज पीएमआई क्रमशः मंगलवार और गुरुवार को घोषित किया जाएगा। 28 अगस्त को समाप्त सप्ताह के लिए विदेशी मुद्रा भंडार शुक्रवार को जारी किया जाएगा। आने वाले सप्ताह में 300 से अधिक कंपनियां अपने तिमाही आय रिपोर्ट कार्ड जारी करेंगी और उनमें से अधिकांश अप्रैल-जून तिमाही परिणामों की घोषणा करेंगे। जिन प्रमुख कंपनियों के तिमाही नतीजे 31 अगस्त से 4 सितंबर के बीच आने वाले हैं उनमें, ओएनजीसी, कोल इंडिया, नाल्को, 8K माइल्स सॉफ्टवेयर सर्विसेज, अरविंद, भारत डायनेमिक्स, जीएमडीसी, जेके सीमेंट, एनएचपीसी, सद्भाव इंजीनियरिंग, सद्भाव इंफ्रास्ट्रक्चर, स्पंदना स्फ़ोर्टी फ़ाइनेंशियल, शालीमार पेंट्स, डिश टीवी इंडिया, इंफीबीम के लिए महत्वपूर्ण हैं। भारत ने सप्ताह में एक दिन में 70,000 संक्रमणों के निशान को पार किया और 28 अगस्त को 77,266 मामलों की सूचना दी, जिसमें जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय के आंकड़ों के अनुसार, 62,550 मौतों के साथ अब तक कुल 34.6 लाख लोग देश में इस महामारी की चपेट में हैं। विशेषज्ञों के अनुसार, दैनिक आधार पर टेस्ट काउंट में वृद्धि भी उच्च संक्रमण का कारण हो सकता है। भारत अब प्रत्येक दिन 8-10 लाख परीक्षण करता है। लेकिन अच्छी बात यह है कि सरकार के ‘टेस्ट, ट्रैक एंड ट्रीट’ दृष्टिकोण ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई क्योंकि रिकवरी दर शुक्रवार को बढ़कर 76.58 हो गई (पिछले सप्ताह लगभग 75 फीसदी) और यहां तक कि घातक दर में 1.85 फीसदी से 1.80 फीसदी तक सुधार हुआ। कोविड-19 वैक्सीन की प्रगति पिछले कुछ महीनों से बाजार के लिए सहायक कारकों में से एक है। लगभग 170 वैक्सीन उम्मीदवारों में से विश्व स्तर पर छह (यूनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफ़ोर्ड या एस्ट्राज़ेनेका, साइनोफार्मा सहित) अंतिम चरण में हैं, अर्थात चरण-III जहां 1,00 से अधिक रोगियों में परीक्षण होता है, जबकि भारत में, दो वैक्सीन बनाने वाली भारत बायोटेक और जायडस कैडिला परीक्षणों के दूसरे चरण में हैं।

Recent Posts

%d bloggers like this: