October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

पीएम के संकल्प से सिद्धि अभियान को पूरा करेगा सिमरिया का हाईब्रिड एन्यूटी मोड पुल

बेगूसराय:- प्रधानमंत्री के नरेन्द्र मोदी के संकल्प से सिद्धि अभियान को आत्मसात करते हुए बेगूसराय लगातार प्रगति के पथ पर अग्रसर है। केन्द्र सरकार द्वारा यहां 30 हजार करोड़ से अधिक की तीन बड़ी परियोजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। 2024 तक इन तीनों परियोजना के पूरा होने से बेगूसराय एक बार फिर राष्ट्रीय फलक पर छा जाएगा। लॉकडाउन में सब काम धंधा बंद होने के बाद भी सभी परियोजना का काम चल रहा है। बरौनी रिफाइनरी में बनने वाले बिहार के पहले पेट्रोकेमिकल से बिहार राष्ट्रीय औद्योगिक फलक पर छा जाएगा। सात हजार करोड़ रुपये से बिहार के एकलौते बरौनी खाद कारखाना का पुनर्निर्माण किया जा रहा है। देश की पांच महारत्न कंपनियों के सहयोग से बनने वाला हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (हर्ल) ना केवल बिहार के यूरिया जरूरत को पूरा करेगा। बल्कि यह पूर्वोत्तर भारत के लिए वरदान साबित होगा। इन दोनों परियोजना के अलावा सिमरिया गंगा नदी पर छह लेन का सड़क पुल बन रहा है। 2021 तक इस पुल के बनकर तैयार हो जाने से देश के विभिन्न हिस्सों से पूर्वोत्तर भारत का सड़क संपर्क और मजबूत हो जाएगा। आजादी के बाद सिमरिया में ही गंगा नदी पर देश का सबसे पहला रेल-सह-सड़क पुल बनाया गया था। उसके जर्जर होने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली केन्द्र सरकार द्वारा यहां पुल बनवाया जा रहा है तथा यह पीएम पैकेज का हिस्सा है। करीब दो किलोमीटर लंबा यह छह लेन का पुल बिहार में हाईब्रिड एन्यूटी मोड से बनने वाला पहला सड़क पुल प्रोजेक्ट है। छह लेन पुल तथा करीब नौ किलोमीटर लंबे फोरलेन एप्रोच रोड के निर्माण पर 1161 करोड़ खर्च अनुमानित है। यह पुल दो पैकेज में उत्तर एवं दक्षिण छोर पर बनने वाली फोर लेन को जोड़ेगा। तीन पार्ट में बननेवाले फोरलेन में पहला पैकेज बख्तियारपुर से मोकामा है, जहां एनएच-31 में लगभग 45 किमी नये एलाइनमेंट पर फोरलेन बन रहा है।
पटना-बख्तियारपुर फोरलेन के आखिरी छोर पर सीधे टाल होते हुए यह सड़क मोकामा के औंटा तक जाएगी तथा यह मोकामा का नया बाईपास होगा, जिसे सीएंडसी कंपनी बना रही है। दूसरे पैकेज में गंगा नदी पर पुल और तीसरे पैकेज में सिमरिया से बेगूसराय होते हुए खगड़िया तक फोरलेन बन रहा है। करीब 60 किलोमीटर लंबी यह फोर लेन पुंज लायड बना रही है।प्रोजेक्ट मैनेजर के अनुसार सिमरिया में राजेन्द्र सेतु के समानांतर पूरब की ओर बन रहा छह लेन का पुल वर्ष 2021 तक पूरा होगा। इस पुल की कुल लंबाई 1.8 किमी और पहुंच पथ 6.2 किमी होगा। उन्होंने बताया कि जल स्तर में वृद्धि के कारण नदी के बीच वाले पाया निर्माण में कुछ बाधा आई। लेकिन दोनों ओर के आठ पाया का निर्माण अंतिम चरण में है। बेस कैंप में स्ट्रक्चर बनकर तैयार है, पाया का निर्माण कार्य पूरा होते ही स्ट्रक्चर बैठाकर पुल निर्माण कार्य को अंतिम रूप दे दिया जाएगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: