October 22, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

गांव की आत्मनिर्भरता और पंचायतीराज के विषय पर राष्ट्रीय ई सम्मेलन 31 को

खूंटी:- गांव की आत्मनिर्भरता और पंचायतीराज के विषय पर तीसरी सरकार अभियान तथा इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र भारत सरकार के संयुक्त तत्वावधान में 31 अगस्त को राष्ट्रीय ई सम्मेलन का आयोजन किया जायेगा। पंचायतीराज एवं ग्रामीण विकास मंत्री भारत सरकार सम्मेलन के मुख्य अतिथि होंगे। अध्यक्षता इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के चेयरमैन पद्मश्री राम बहादुर राय करेंगे। सम्मेलन में देश के विभिन्न राज्यों से पंचायत प्रतिनिधि, सामाजिक कार्यकर्ता, स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधि, बुद्धिजीवी, शिक्षक, लेखक एवं पत्रकार सम्मिलित होंगे। ई सम्मेलन का आयोजन प्रातः 11 बजे से शुरू होकर अपराह्न एक बजे तक चलेगा। इसमें प्रख्यात शिक्षाविद् प्रो जनक पाण्डेय पूर्व कुलपति केन्द्रीय विश्वविद्यालय पटना एवं इलाहाबादए डाॅ डब्ल्यूआर रेड्डी पूर्व महानिदेशक राष्ट्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज संस्थान हैदराबाद मिशन समृद्धि फाउंडेशन के संस्थापक एवं उद्योगपति अरुण जैन और दिल्ली की म्युनिसिपल कमिश्नर रश्मि सिंह भी विशिष्ट अतिथि के रूप में अपना मार्गदर्शन देंगे। सम्मेलन का संयोजन व संचालन तीसरी सरकार अभियान के संस्थापक डाॅ चन्द्रशेखर प्राण करेंगे। तीसरी सरकार अभियान पंचायतों के संस्थागत विकास एवं सशक्तीकरण हेतु जन सहयोग से संचालित एक लोक अभियान है, जो देश में 73वें संविधान संशोधन तथा राज्यों के पंचायती राज अधिनियम के प्रति लोगों को जागरूक करने तथा उन्हें गतिशील बनाने के कार्य में लगा है। अभियान की शुरूआत लोकनायक जयप्रकाश नारायण की जन्मतिथि 11 अक्टूबर 2014 से हुई। अभियान के पांच साल पूरे होने पर तीसरी सरकार अभियान ने एक नई पहल करते हुए उत्तर प्रदेश में सितंबर 2019 से एनआईआरडीपीआर और मिशन समृद्धि के सहयोग से पंचायत पार्लियामेंट कार्यक्रम की शुरुआत की थी। इस कार्यक्रम में प्रदेश में 500 क्लस्टर स्तरीय ग्राम संसदए 50 जिला स्तरीय पंचायत पार्लियामेंट एवं 4-5 जनवरी को राज्य स्तरीय पंचायत संसद का आयोजन किया गया था। राज्य स्तरीय पंचायत संसद उत्तर प्रदेश के अलावा देश के 10 अन्य राज्यों से पंचायत प्रतिनिधि और सामाजिक कार्यकर्ता सम्मिलित हुए थे। इन लोगों ने संकल्प लिया था कि अपने राज्य में तीसरी सरकार अभियान के कार्य को आगे बढ़ाएंगे, पर बीच में कोरोना महामारी का संकट खड़ा हो गया। इस संकट के दौरान वेबीनार के माध्यम से गतिविधि को आगे बढ़ाया गया। राष्ट्रीय ई सम्मेलन में पंचायतीराज व्यवस्था को बेहतर और प्रभावी बनाने,आत्मनिर्भरता के लिए व्यावाहरिक प्रयास करने तथा कोरोना महामारी से उत्पन्न कठिनाइयों के समाधान के लिए सरकार से आग्रह किया जायेगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: