October 21, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

कांवड़ियों ने की ऑनलाइन पूजा

दरभंगा:- कोरोना महामारी के इस दौर में जिले के सिंहवाड़ा प्रखंड अंतर्गत मधपुर और केवटी प्रखंड के पिंडारुच समेत कई गांवों के लोग लाकडाउन की वजह से जब वर्षों से चली आ रही पारंपरिक कांवर यात्रा को लेकर देवघर के बैद्यनाथधाम नहीं जा सके तो संबंधित कांवरियों ने भोलेनाथ और माता पार्वती के जलाभिषेक का अनूठा तरीका ढूंढ लिया। श्रद्धालुओं ने रामायण सर्किट में शामिल दरभंगा के प्रसिद्ध तीर्थ स्थल गौतम कुंड से जल उठा कर कांवर यात्रा शुरू की। कांवरिए विश्व प्रसिद्ध अहिल्या स्थान होते हुए पैदल चल कर 5 दिनों में मधपुर के मुनेश्वर स्थान मंदिर पहुंचे और वहां भगवान शिव और माता पार्वती का जलाभिषेक किया। सभी कांवरियों को देवघर के बाबा बैद्यनाथ मंदिर के पुजारी बिजली पंडा ने वीडियो कॉलिंग के माध्यम से ऑनलाइन संकल्प और पूजा करवाई। श्रद्धालुओं ने पुजारी को दक्षिणा भी ऑनलाइन ही समर्पित किया। इस श्रद्धा-भक्ति और पूजा की चर्चा पूरे जिले में हो रही है। श्रद्धालुओं का कहना है कि तकरीबन पिछले 30 सालों से वेलोग अपने गांव के कांवरियों के जत्थे के साथ चौरचन के अगले दिन देवघर के लिए कांवर लेकर चलते थे। लेकिन इस बार कोरोना महामारी को लेकर जारी लाकडाउन की वजह से यह कांवर यात्रा नहीं हो सकी। इसलिए उनलोगों ने गौतम कुंड से जल उठाकर 5 दिनों की कांवर यात्रा शुरू की। उन्होंने मधपुर के शिवालय में जलाभिषेक किया। इस कांवर यात्रा की सबसे दिलचस्प बात यह रही कि देवघर के बाबा बैद्यनाथ मंदिर परिसर से वहां के पुजारी ने उनकी ऑनलाइन पूजा करवाई। इससे उन्हें बेहद संतुष्टि मिली है।

Recent Posts

%d bloggers like this: