October 23, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राजेन्द्र बस स्टैंड से बसों का परिचालन के आदेश के बाद भी बस मालिक है परेशान

गोपालगंज:- वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के कारण शहर के राजेन्द्र बस पड़ाव में पिछले पांच महीनों में बसों का परिचालन ठप होने से लगभग दो करोड़ रुपए का कारोबार प्रभावित हुआ है। बस पड़ाव से प्रतिदिन 50 से अधिक बसें चलती हैं। अहले सुबह से ही यहां गुलजार रहता है। यहां प्रतिमाह लगभग 40 लाख रुपए का टर्नओवर होता है। इस व्यवसाय से सीधे तौर पर 100 से 150 लोग जुड़े होते है। कोरोना वायरस को लेकर मार्च से ही यात्री बसों का परिचालन बंद होने से विरान पड़ा था। पांच महीना से अधिक समय होने के बाद फिर से सरकार ने बस चलाने का निर्देश दिया हैं। उसके बाद बस स्टैंड में धीरे-धीरे बसें आने जाने लगी है। बस स्टैंड धीरे धीरे गुलजार होने लगा है। हालांकि सोमवार व मंगलवार को लंबी दूरी की बसें नहीं चली। ऐसे में इस व्यवसाय से जुड़े लोगों की स्थिति काफी दयनीय हो गई है। लॉकडाउन के कारण बेरोजगार हुए चालक,खलासी को अपने परिवार की जीविका चलाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। इस संबंध में बस मालिक अमरेश शाही ने कहा कि कोरोना काल में ट्रांसपोर्ट की हालता खराब हो गई है। बस नहीं चलने के कारण वाहन मालिकों को दोहारी मार झेलनी पड़ी है। जो मालिक लोन लेकर बस खरीदा है उसका ब्याज भी देना पड़ रहा है। बसों का परिचालन ठप होने से उनके सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो गई है। बस स्टैंड के दुकानदार बस के परिचालन नहीं होने से परेशानी रहे। बस स्टैंड के अंदर और बाहर होटल,पान के दुकानदार, चाय के दुकानदार, मिठाई के दुकान जैसे छोटे-छोटे दुकानें के बंद होने के कारण दुकानदारों के सामने भुखमरी की समसया आ गई थी। अब बस स्टैंड में सोमवार से धीरे-धीरे दुकानें खुलने लगी है। बस स्टैंड परिसर में होटल दुकानदार मिठू प्रसाद ने बताया कि बस के नहीं चलने के कारण यात्रियों का आना जाना बंद हो गया था। जब लोग ही नहीं आएंगे तो दुकान कैसे चलेगा। पांच महीने के बाद बस चलना शुरू हुआ है। इन पांच महीने में परिवार के सामने आर्थिक समस्या आ गई थी। खेत गिरवी रखकर घर का खर्च चलाना पड़ा है।बस स्टैंड से प्रतिदिन 40 से 50 बसें खुलती है मुजफ्फरपुर,रक्सौल,बेतिया,गोरखपुर,छपरा,सीवान, वाराणसी सहित अन्य जगहों के लिए 40 से 50 बसें खुलती है। बसों का परिचालन बंद होने से यहां से पांच महीने में एक भी बस कहीं नहीं गई है। जिससे बस स्टैंड के पास के दुकान के दुकानदारों का कहना है कि लॉकडाउन के कारण बसों का परिचालन बंद होने से बिक्री पर भी आफत हो गई थी।

Recent Posts

%d bloggers like this: