September 23, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ऑनलाइन क्लास से बच्चों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा : धर्मेन्द्र तिवारी

रांची:- भारतीय जनता मोर्चा के केन्द्रीय अध्यक्ष, श्री धर्मेंद्र तिवारी ने आज नामकुम, सिदरौल स्थित कार्यालय में कहा कि राज्य में कोविड-19 महामारी के कारण जब से निजी एवं सरकारी स्कूल बंद हुए है, तब से छात्रों एवं छात्राओं के शिक्षा एवं स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ रहा है। निजी स्कूलों द्वारा अभिभावकों से फीस वसूलने के उद्देश्य से आरंभ किये गये ऑनलाईन कक्षाओं से छात्रों को शैक्षणिक लाभ तो नहीं मिल पा रहा है, उल्टे मासूम बच्चों के आँखों व स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि एक एंड्रोईड फोन की औसत कीमत 8-10 हजार रूपया पड़ता है। लॉकडाउन के कारण छोटे, मंझोले व्यवसायी वर्ग तथा मध्यम व निम्नवर्गीय के परिवारों की जहाँ एक ओर आय के साधन में अप्रत्याशित कमी आई है, वहीं दूसरी ओर एंड्रोईड फोन खरीदने के लिये 8-10 हजार की अतिरिक्त बोझ उनकी कमर तोड़ रही है। चूंकि बच्चे का भविष्य का सवाल है इसलिये गरीब माता-पिता कर्ज लेकर भी बच्चों को एंड्रोईड फोन उपलब्ध करा रहे है। कम उम्र के छात्रों के हाथों में एंड्रोईड फोन आ जाने एवं इंटरनेट की सर्वसुलभता के कारण बच्चे सोशल मिडिया के विभिन्न आयामों में काफी समय दे रहे है, जिसके कारण वे अपना मूल्यवान समय तो व्यर्थ गवाँ ही रहे है साथ ही उनका नैतिक पतन भी हो रहा है। वहीं दूसरी ओर सरकारी स्कूलों के बच्चों का और भी बुरा हाल है। साथ ही उन्होंने कहा कि झारखण्ड जैसे जल-जंगल एवं आदिवासी बहुल राज्य के सुदूरवर्ती इलाकों में जहाँ मूलभूत बुनियादी सुविधायें अभी तक नहीं पहुँच पायी है, वहाँ इंटरनेट युक्त फोन से शिक्षा प्राप्त करने की बात करना भी बेमानी लगता है। सरकार ने चूंकि आठवीं कक्षा तक के सरकारी स्कूलों के बच्चों को कोरोना के मद्देनजर ऊपर के कक्षाओं में प्रोन्नत करने का निर्णय लिया है, परन्तु उन्हें अबतक पाठ्य-पुस्तक उपलब्ध नहीं कराई गयी है, जिससे वे शिक्षा से विमुख होते जा रहे है।

Recent Posts

%d bloggers like this: