October 25, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

29अगस्त भारतीय राजनीति के लिए ऐतिहासिक, संविधान का मसौदा हुआ था तैयार-रामेश्वर उरांव

रांची:- प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डा रामेश्वर उरांव ने आज कहा कि 29 अगस्त भारतीय राजनीति में ऐतिहासिक महत्व रखता है क्योंकि 29 अगस्त 1947 में आज ही के दिन संविधान सभा में संविधान का मसौदा तैयार करने के लिए डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की अध्यक्षता में एक प्रारूप समिति का गठन किया गया था। भारत का संविधान भारतीय लोकतंत्र का सबसे महान और अनमोल दस्तावेज है। 29 अगस्त का दिन इसके निर्माण के इतिहास में एक महत्वपूर्ण पड़ाव के रूप में दर्ज है। साल 1947 में आज ही के दिन संविधान सभा ने संविधान का मसौदा तैयार करने के लिए डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की अध्यक्षता में एक प्रारूप समिति का गठन किया था, दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के लिए संविधान बनाना कोई आसान काम नहीं था। ड्राफ्ट तैयार करने में समिति को 2 साल से ज्यादा का वक्त लगा। 26 नवंबर 1949 को समिति ने संविधान का ड्राफ्ट संविधान सभा के सामने पेश किया, बाद में 26 जनवरी 1950 को यह प्रभाव में आया और देश को अपना संविधान मिला।
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डा रामेश्वर उराँव ने कहा कि 29 अगस्त की तारीख इतिहास में हॉकी के जादूगर मेजर ध्यानचंद के जन्म दिन के रूप में दर्ज है। भारत में बहुत से लोग ऐसे हुए हैं जिन्होंने अपने क्षेत्र में इतनी महारत और कामयाबी हासिल की कि उनका नाम इतिहास के पन्नों में सदा के लिए दर्ज हो गया ,भारतीय हॉकी के स्वर्णिम युग का नेतृत्व करने वाले मेजर ध्यानचंद भी उन्हीं लोगों में शामिल हैं। 29 अगस्त 1905 को जन्मे ध्यानचंद ने अपने खेल से न सिर्फ भारत को ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक दिलाया बल्कि दुनिया के इस सबसे बड़े खेल आयोजन में परंपरागत एशियाई हॉकी का दबदबा भी कायम किया।
प्रदेश कांग्रेस कमिटी के प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे,लाल किशोर नाथ शाहदेव एवं डा राजेश गुप्ता छोटू ने कहा कि भारत के लोकतंत्र में 29 अगस्त महत्वपूर्णस्थान रखता है जहाँ बाबा साहेब की अध्यक्षता में सात सदस्यीय प्रारुप समिति ने भारत को एक लिखित दस्तावेज संविधान दिया जिसपर यह देश गौरवान्वित महसूस करता है वहीं दूसरी तरफ महान हाकी खिलाड़ी मेजर ध्यानचंद के जन्मदिन पर देश उन्हें मन कर रहा है।

Recent Posts

%d bloggers like this: