October 23, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मौसम विभाग की चेतावनी, देश के इन हिस्सों में होगी भारी बारिश

नई दिल्लीः- देश के कुछ हिस्सों में मानसूनी बारिश इन दिनों लोगों की जिंदगी के लिए आफत बनी हुई है। बारिश के चलते नदी, नाले और तालाब सब लबाब हैं, जिसकी वजह से भूस्खलन की घटनाएं भी सामने आ रही हैं। कई राज्यों में जारी बाढ़ ने भी बड़ा नुकसान पहुंचाया है, जिससे सड़कें और पुल भी क्षतिग्रस्त हुए हैं। भारतीय मौसम विभाग ने गुरुवार को उत्तर भारत के कई हिस्सों में अगले चार दिनों तक भारी बारिश का अनुमान लगाया है। वहीं, उत्तर प्रदेश में हल्की बरसात हुई है। पंजाब और हरियाणा में बारिश तो नहीं हुई है, लेकिन मौसम विज्ञान विभाग ने इन दोनों राज्यों में कई स्थानों पर अगले दो दिनों तक भारी बारिश होने अनुमान लगाया है। मौसम विभाग ने उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश और पूर्वी राजस्थान के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश के साथ बिजली कड़कने का संभावना जताई है। साथ ही येलो अलर्ट जारी किया, राष्ट्रीय राजधानी में बारिश नहीं हुई। विभाग ने बुधवार से शुक्रवार तक राष्ट्रीय राजधानी में ‘‘मध्यम से भारी’’ बारिश का अलर्ट जारी किया है। अधिकारियों के अनुसार यमुना का जल स्तर खतरे के निशान के नजदीक रहा। वहीं, हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से और अधिक पानी छोड़े जाने से इसके उफान पर आने की संभावना है।
वहीं, मौसम विभाग ने मौसम पैटर्न के आधार पर चार रंग के कोड अलर्ट जारी किए है, जिसमें ग्रीन, येलो, ओरेंज और रेड हैं। 27 अगस्त के लिए जम्मू कश्मीर के लिए, 27-28 अगस्त के लिए हिमाचल प्रदेश के लिए, 27 अगस्त एवं 29-30 अगस्त के लिए पूर्वी उत्तर प्रदेश के लिए और 29-30 अगस्त के लिए पूर्वी राजस्थान के लिए येलो अलर्ट जारी किया है। उत्तर प्रदेश में बाढ़ प्रभावित गांव बुधवार को कम हुए और स्थिति सुधरी है। राज्य में बाढ़ प्रभावित जिले 19 हो गये थे।

दिल्ली में बढ़ेगा यमुना का जलस्तर

दिल्ली में बुधवार को यमुना का जल स्तर खतरे के निशान के नजदीक रहा। वहीं, हरियाणा के हथिनीकुंड बैराज से और अधिक पानी छोड़े जाने से इसके उफान पर आने की संभावना है, अधिकारियों ने यह जानकारी दी। मौसम वैज्ञानिकों ने अगले तीन-चार दिनों में पश्चिमोत्तर भारत में भारी से बहुत भारी बारिश होने का अनुमान लगाया है। यमुना का जल स्तर शाम छह बजे ओल्ड रेलवे ब्रिज पर 203.68 मीटर दर्ज किया गया। वहीं, उत्तर प्रदेश में मानसून के जल्द जोर पकड़ने की संभावना है और अगले तीन दिनों में बारिश की पूरी संभावना है।

Recent Posts

%d bloggers like this: