September 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

किसानों को केसीसी का लाभ देने में लाएं तेजीः डीडीसी

मेदिनीनगर:- उपायुक्त शशि रंजन के निदेशानुसार उप विकास आयुक्त शेखर जमुआर की अध्यक्षता में आज समाहरणालय सभागार में पलामू जिला स्तरीय परामर्श दात्री समिति और ’आत्मनिर्भर भारत’ के अंतर्गत बैंकों द्वारा प्रदर्शन की विशेष समीक्षा बैठक हुई। बैठक में वार्षिक साख योजना की उपलब्धि, साख जमा अनुपात की उपलब्धि, किसान क्रेडिट कार्ड प्रधानमंत्री मुद्रा ऋण योजना प्रधानमंत्री जनधन योजना के अंतर्गत प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना एवं अटल पेंशन योजना, पीएमईजीपी राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत महिला स्वयं सहायता समूह की प्रगति, राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत ऋण की प्रगति इत्यादि की समीक्षा की गई। वहीं आत्मनिर्भर भारत के अंतर्गत बैंकों के द्वारा प्रदर्शन की विशेष समीक्षा में प्रधानमंत्री किसान, मछली पालकों, पशुपालन इत्यादि से जुड़े लाभुकों को केसीसी से अच्छादन, प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर आत्मनिर्भर निधि इत्यादि पर चर्चा की गयी। साथ ही विचार-विमर्श के बाद उप विकास आयुक्त ने कार्यो में प्रगति लाने का निदेश दिया।
उप विकास आयुक्त शेखर जमुआर ने किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) से अच्छादन में तेजी लाने का निर्देश दिया। साथ ही कोरोना संक्रमणकाल में दूसरे राज्यों-जिलों से आये पलामू के श्रमिकों को रोजगार से जोड़ने हेतु प्रावधान के अनुरूप बैंकों से वित्तीय सहायता इत्यादि के माध्यम से लाभ देने व उन्हें स्वावलंबी बनाने की दिशा में सक्रियता से कार्य करने का निदेश दिया। उन्होंने कहा कि वित्तीय सहायता देकर श्रमिकों को लाभान्वित किया जाना बड़ी उपलब्धि होगी। उन्होंने कहा कि किसान क्रेडिट कार्ड से वंचित लाभुकों को केसीसी से शत प्रतिशत अच्छादित किया जाए। बैंक होल्ड करके नहीं रखें, समन्वय बनाकर आवेदनों का निष्पादन करें। सभी बैंक शाखा आवेदन को लक्ष्य बनाकर कार्यो में तेजी लाते हुए लाभुकों को केसीसी का लाभ दें। कोई भी बैंक केसीसी देने में शिथिल रवैया नहीं अपनायें।
वार्षिक साख योजना के तहत लक्ष्य के अनुरूप कुल लक्ष्य 78286 लाभुकों के विरूद्ध जून 2020 तिमाही तक सभी बैंकों ने मिलकर एक 11627 लाभुकों को ऋण वितरण किया है। उप विकास आयुक्त ने इसमें तेजी लाते हुए शेष लाभुकों को भी ऋण वितरण करने का निर्देश दिया। वहीं एमएसएमई के लक्ष्य के अनुरूप उपलब्धि हासिल करने का निर्देश दिया। जून 2020 तक 896 मुद्रा ऋण का वितरण किया गया है। वही प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत हुए कार्य, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम की भी समीक्षा की। किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत जून माह तक 6146 लाभुकों को किसान क्रेडिट ऋण के अंतर्गत 5028.43 लाख की राशि वितरित की गयी है। वहीं राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत 980 महिला समूह को राशि उपलब्ध कराई गई है। उप विकास आयुक्त ने निर्धारित लक्ष्य 6140 लाभुकों के विरुद्ध महिला समूहों को ऋण उपलब्ध कराने का निर्देश दिया। वहीं साख जमा अनुपात की औसत उपलब्धि 56.08 प्रतिशत प्राप्त हुआ है। इसमें वृद्धि करने का निर्देश दिया गया। दिसंबर 2019 तिमाही तक सभी बैंको ने मिलकर 938781 जन धन खाता खोला गया है।
उप विकास आयुक्त ने प्रधानमंत्री किसान के लाभुकों को केसीसी से अच्छादन में लक्ष्य की प्राप्ति के लिए किए गए कार्य पर असंतोष प्रकट किया। उन्होंने कहा कि इसमें प्रगति लायें। लाभुकों की सूची तैयार करें। उन्होंने मत्स्य कृषकों को 10 अक्टूबर तक विशेष अभियान चलाकर केसीसी ऋण से आच्छादित करने का निर्देश दिया। उन्होंने जिला मत्स्य पदाधिकारी को निर्देश दिया कि सभी मछली पालकों/मछुआरों को किसान क्रेडिट कार्ड से आच्छादित करने संबंधित कार्यो में तेजी लाते हुए मछली पालक किसानों से आवेदन पत्र प्राप्त कर बैंक को भेजते केसीसी का लाभ पहुंचाएं। वहीं पशुपालन के क्षेत्र से जुड़े पशुपालकों को भी केसीसी ऋण से आच्छादित करने का निर्देश दिया।

Recent Posts

%d bloggers like this: