September 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

नेटफ्लिक्स की फिल्म एक सेकंड से भी कम समय में डाउनलोड की जा सकेगी

इंजीनियर्स की टीम ने तोड़ा सबसे तेज डेटा ट्रांसमिशन का रिकॉर्ड

नई दिल्ली:- नेटफ्लिक्स की हर फिल्म को एक सेकंड से भी कम समय में डाउनलोड करने की कल्पना ही की जा सकती है, लेकिन यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन (UCL) के इंजीनियरों की एक टीम ने इसे पॉसिबल बनाने का काम किया है। इंजीनियर्स की इस टीम ने दुनिया के सबसे तेज डेटा ट्रांसमिशन को विकसित करने का रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इस रिकॉर्ड को पांचवीं तेज गति के साथ तोड़ा गया है, जो नेटफ्लिक्स की हर फिल्म को एक सेकंड से भी कम समय में डाउनलोड कर सकता है।

रिपोर्टों के अनुसार, यूसीएल टीम ने 178 टेराबाइट्स की इंटरनेट स्पीड दर एक सेकंड में हासिल की। लंदन स्थित शोधकर्ताओं ने अप्रैल में जापान के नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर कम्यूनिकेशंस टेक्नोलॉजी द्वारा प्राप्त प्रति सेकंड 172 टेराबाइट्स का पिछला रिकॉर्ड तोड़ दिया। इस विधि में सामान्य तौर पर 9 टेराहर्ट्ज (THz) के बजाय 16.8 टेराहर्ट्ज Terahertz (THz) वेवलैंथ का उपयोग किया गया, जो आमतौर पर ऑप्टिकल फाइबर बुनियादी ढांचे के लिए इस्तेमाल की जाती है। टीम को इसके जबर्दस्त परिणाम मिले।

ऐसे किया पॉसिबल

फाइबर-ऑप्टिक ब्रॉडबैंड के माध्यम से डिजिटल डेटा को तेजी से ले जाने के लिए ऑप्टिकल मार्गों को छोड़कर एम्प्लीफायर टेक्नोलॉजी को बढ़ाया गया। साथ ही ज्योमेट्रिक शेपिंग (जीएस) की सहायता से एक व्यापक बैंडविड्थ पर बिजली उत्पन्न की गई। इस विधि की लागत 20 हजार यूएस डॉलर आई। इसके अलावा 589,000 यूएस डॉलर का खर्च नए ऑप्टिकल केबलों को स्थापित करने में चला गया।

ब्लैक होल इमेज को किया डाउनलोड

टीम ने पहली बार ब्लैक होल की दुनिया की पहली छवि को डाउनलोड करके प्रयोग किया, जिसे डाउनलोड करने में स्पष्ट रूप से एक घंटा लगता है। एमआईटी MIT वेधशाला ने हैवी हार्ड ड्राइव पर इमेज को स्टोर किया। हालांकि प्राप्त इंटरनेट स्पीड के साथ, यूसीएल एक घंटे से भी कम समय में विशाल ब्लैक होल छवि को डाउनलोड करने में सक्षम था।

यूसीएल के एक व्याख्याता और एक रॉयल एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग रिसर्च फेलो और लीड लेखक डॉ गैलडिनो ने कहा कि अत्याधुनिक क्लाउड डेटा-सेंटर इंटरकनेक्ट एक सेकंड में 35 टेराबाइट तक डेटा ट्रांसपोर्ट करने में सक्षम हैं। उन्होंने कहा कि टीम नई तकनीकों के साथ काम कर रही थी जो मौजूदा बुनियादी ढांचे का अधिक कुशलता से उपयोग करती है। ऑप्टिकल फाइबर बैंडविड्थ का बेहतर उपयोग करती है और 178 टेराबिट्स के विश्व रिकॉर्ड ट्रांसमिशन दर को एक सेकंड में सक्षम बनाती है। कोरोना महामारी के बीच पिछले कुछ महीनों में ऑनलाइन ट्रैफ़िक में लगभग 60 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई थी।

Recent Posts

%d bloggers like this: