September 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

मेलेनिया ने ‘अमेरिका ग्रेट अगेन’ सपने को पूरा करने के लिए चार साल और माँगे

मेलेनिया ने ‘अमेरिका ग्रेट अगेन’ सपने को पूरा करने के लिए चार साल और माँगे

कोविड-19 से मृत अमेरिकी लोगों के प्रति मेलेनिया की संवेदनाएँ

मेलेनिया की सभी नस्लों से एकजुटता की अपील

लॉस एंजेल्स:- प्रथम लेडी मेलेनिया ट्रम्प ने देश में एकता और भाईचारे की अपील करते हुए कहा कि उनके पति डोनाल्ड ट्रम्प दिल से अमेरिका ग्रेट का सपना ले कर चले हैं और वह चाहती हैं कि उन्हें चार साल के लिए एक और मौक़ा मिले। इस अवसर पर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ख़ुद प्रथम महिला को अपने औचारिक उदबोधन के लिए आमंत्रित किया।
एकजुटता की अपील : व्हाइट हाउस के रोज़ गार्डन में क़रीब ढाई सौ दर्शकों और श्रोताओं के सम्मुख मेलेनिया ट्रम्प के उदबोधन में विनम्रता थी। उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि प्रतिपक्ष डेमोक्रेट के बारे में कुछ कहकर और विभाजन की रेखा खींचना नहीं चाहती। उन्होंने कहा कि वह भी एक कम्युनिस्ट देश से एक इमीग्रेंट के रूप में सुनहरे भविष्य के लिए अमेरिका आई थी। अमेरिका में ऐसे अनेक देशों और नस्लों के अलग अलग – एक समुदाय है, जो अपनी योग्यता से इस देश को सुदृढ़ बनाते हैं। अमेरिका को फिर से ग्रेट बनाने के लिए यह ज़रूरी भी है कि सभी समुदाय सभ्य तौर तरीक़ों से मिलजुल कर काम करें। उन्होंने कहा कि न्याय के नाम पर रंगभेद को लेकर आंदोलन करना अथवा हिंसा भड़काना उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि उनके पति डोनाल्ड ने अमेरिका में एतिहासिक ‘ब्लैक कालेज में पर्याप्त धन निवेश किया है।

कोविड संक्रमितों के प्रति संवेदना-

मेलेनिया रिपब्लिकन कन्वेंशन के पहले दो दिनों में पहली वक़्ता हैं, जिन्होंने अमेरिका में कोरोना संक्रमित लाखों लोगों और इस से जान गँवा चुके पौने दो लाख लोगों के प्रति अपनी संवेदनाएँ व्यक्त की। उन्होंने कहा कि उनकी संवेदनाएँ उन सभी परिवारों के प्रति है, जिनके घर से कोविड के कारण व्यक्ति जान गँवा बैठा है। उनका कहना था कोविड एक अज्ञात शत्रु के रूप में इस देश में आया और उनके पति डोनाल्ड ट्रम्प इस महामारी से निपटने के लिए रात दिन जूझ रहे हैं। उन्होंने भरोसा दिलाया कि वह तब तक चैन से बैठने वाले नहीं हैं, जब तक इसका पुख़्ता तोड़ नहीं निकल जाए।

अफ़्रीकी देशों के बच्चों के प्रति प्रेम:

मेलेनिया ने कहा कि वह प्रथम लेडी के रूप में पिछले साढ़े तीन सालों में घाना सहित तीन अफ़्रीकी देशों में गई है। वहाँ उनके स्कूलों में बच्चों से मिली है और वह चाहती हैं कि ऐसे सभी बच्चों को शिक्षा और स्वास्थ्य के बराबर अवसर मिलने चाहिए ताकि वे भी नेक इंसान बन सकें। उन्होंने अमेरिकी बच्चों में मादक औषध में बढ़ते लगाव पर छँटा व्यक्त की । उन्होंने मीडिया से अपील की कि वह इस मुद्दे को बार बार उठाए।

Recent Posts

%d bloggers like this: