September 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

JEE-NEET की परीक्षाओं के लिए छात्रों को दो से तीन महीने का वक्त दे, मैं भी एक इंजीनियर हूं: सोनू सूद

नई दिल्ली:- भारत में मेडिकल और इंजीनियरिंग के लिए एंट्रेंस एग्जाम JEE-NEET की परीक्षाएं कराने के फैसले पर विरोध देखने को मिल रहा है। इस मामले में अब अभिनेता सोनू सूद ने भी छात्रों का समर्थन किया है। लॉकडाउन में हजारों प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाने वाले सूद ने NDTV से इस मुद्दे पर बातचीत में कहा कि बच्चों को इस महामारी के बीच में परीक्षाएं देने के लिए बाहर निकलने को मजबूर नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ‘हम इन छात्रों को बाहर निकलने और परीक्षाएं देने के लिए मजबूर नहीं कर सकते हैं। हमें इनका समर्थन करना ही होगा। 26 लाख छात्र इन परीक्षाओं में शामिल होने वाले हैं।’ सूद ने कहा कि बच्चों और उनके माता-पिता को कम से दो से तीन महीने का वक्त दिया जाना चाहिए ताकि बच्चे मानसिक रूप से तैयार होने के बाद परीक्षा में शामिल हो सकें। उन्होंने आगे कहा, ‘अधिकतर छात्र बिहार से हैं, जहां कम से कम 13 से 14 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं। आप कैसे उम्मीद कर सकते हैं कि वो यात्रा करके परीक्षा देने आएं? उनके पास पैसे नहीं हैं, रुकने के लिए जगह नहीं है। हम इन छात्रों को परीक्षा देने के लिए बाहर निकलने पर मजबूर नहीं कर सकते। उन्हें दो महीने का वक्त दीजिए। हमें परीक्षाओं को नवंबर-दिसंबर तक टाल देना चाहिए। ताकि छात्र जब मानसिक रूप से तैयार हों, तब परीक्षा दें।’ उन्होंने कहा, ‘मैं भी एक इंजीनियर हूं। मुझे लगता है कि देश के लिए युवाओं की यह नई खेप बहुत जरूरी है, जो आगे चलकर बहुत से डिपार्टमेंट संभालने वाली है।’ बता दें कि इसके पहले सोनू सूद ने मंगलवार को परीक्षाएं टालने के आग्रह के साथ एक ट्वीट भी किया था। उन्होंने लिखा था, ‘देश में कोरोना की मौजूदा स्थिति को देखते हुए मैं सरकार से नीट-जेईई एग्जाम को स्थगित करने की अपील करता हूं! कोरोना की स्थिति को देखते हुए हमें ज्यादा ध्यान देना चाहिए और छात्रों की जान को जोखिम में नहीं डालना चाहिए।’

Recent Posts

%d bloggers like this: