September 20, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

देवास: तीन मंजिला मकान ढहने से दो लोगों की मौत, रेस्क्यू के दौरान 10 लोगों को बचाया

देवास:- शहर के कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत स्टेशन रोड स्थित नई आबादी में मंगलवार शाम को एक तीन मंजिला जर्जर मकान भरभरकार ढह गया था, जिससे मकान में रहने वाले 12 लोग मलबे में दब गए थे। सूचना मिलने पर पुलिस, प्रशासन, नगर निगम और एनडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू शुरू किया। देर रात चले रेस्क्यू के दौरान 10 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया, जबकि इस हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। शहर के लाल गेट के सामने घमंडी होटल के पीछे रहने वाले जाकिर शेख का तीन मंजिला पक्का मकान मंगलवार शाम को अचानक भरभराकर ढह गया। इस मकान में चार भाइयों के परिवार रहते थे। सूचना मिलने पर पुलिस-प्रशासन और नगर निगम की टीम मौके पर पहुंची और राहत एवं बचाव कार्य शुरू किया। जेसीबी और गैस कटर की मदद से मलबे में फंसे लोगों को बाहर निकाला गया। रात 9 बजे तक छह लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया जा चुका था। इस दौरान नगर निगम कमिश्नर विशाल सिंह चौहान और ट्रैफिक डीएसपी किरण शर्मा ने रेस्क्यू की कमान संभाली और देर रात तक तीन और लोगों को मलबे से निकाल लिया गया। इसके बाद भी तीन लोगों का पता नहीं चल पा रहा था। फिर, एनडीआरएफ की 30 सदस्यीय टीम मौके पर पहुंची और मोर्चा संभाला। रेस्क्यू टीम ने कैमरे डालकर तीनों की तलाश शुरू की। अंदर फंसे तीनों लोगों की सलामती के लिए कमिश्नर ने ऐहतियात बरतते हुए मशीनों से केवल सहारा देने का काम किया। कांक्रीट का एक-एक हिस्सा कटर और क्रेन की सहायता से सावधानी से काटा। डीएसपी किरण शर्मा स्वयं मलबे में उतर गए। कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला व एसपी डॉ. शिवदयाल सिंह ने भी पहुंच कर टीम को जरूरी मार्गदर्शन दिया। तीन क्रेन, पांच जेसीबी, होम गार्ड की टीम के साथ रेस्क्यू चलाया। रात एक बजे तक चले इस रेस्क्यू के बाद मलबे से एक और को सुरक्षित निकाल लिया गया, जबकि दो लोगों के शव बरामद हुए। एसपी डॉ. शिवदयाल सिंह के अनुसार, इस हादसे में 12 लोग मकान के मलबे में दबे थे, जिनमें से 10 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया, जबकि दो लोगों की मौत हो गई। मृतकों में 23 वर्षीय सिमरन पुत्री फिरोज खान और एक वर्षीय आहिल पुत्र आदिल शामिल हैं। वहीं, 10 लोग घायल हुए हैं, जिन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है। इनमें दो की हालत गंभीर है, उन्हें इंदौर रैफर किया गया है। घायलों में 55 वर्षीय बस्कर बी पत्नी अजीज शेख, आठ वर्षीय आफिया पुत्री इरशाद उर्फ मोनू शेख, 16 वर्षीय अक्शा पुत्री जाकिर शेख, 40 वर्षीय अंजुम पत्नी जाकिर शेख, 16 वर्षीय अल्फेज पुत्र ईरशाद शेख, 14 वर्षीय अलीशा पुत्री जाकिर शेख, 24 वर्षीय शिरिन पत्नी शहनावज, 40 वर्षीय शबाना पत्नी फिरोज शेख, 15 वर्षीय शिनम पुत्री रशीद शेख और 16 वर्षीय रेहान शामिल हैं। बस्कर बी और आफिया को इंदौर रैफर किया गया। बाकी का इलाज देवास जिला अस्पताल में चल रहा है।

Recent Posts

%d bloggers like this: