September 23, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

यूरिया घोटाले में डी एम की बड़ी कार्रवाई

किशनगंज:- कोरोना काल में किशनगंज जिले में लम्बे समय से यहां के भोले -भाले अशिक्षित किसानों के नाम पर खाद सप्लाई दिखाकर कालाबजारी करने का धंधा फलने -फूलने की गुप्त सूचना पर डी एम डाॅ आदित्य प्रकाश ने मंगलवार को यूरिया घोटाले के कालाबाजारियों पर बड़ी कार्यवाई किया है।

जिला के कृषि पदाधिकारी प्रवीण कुमार झा के जांच प्रतिवेदनों में बड़े पैमाने पर यूरिया घोटाला एवं कालाबजारी का खुलासा होने के उपरांत डी एम डाॅ प्रकाश ने जांच समिति के प्रतिवेदनों पर निर्णय लेते हुए सहकारी समिति के खाद विक्रेता को दोषी माना है और कालाबाजारियों के विरूद्ध मामला दर्ज करने का आदेश संबंधित थाना क्षेत्र में अधिकारियों को दिया हैं।
ज्ञात हो कि डी एम द्वारा गठित जांच समिति के द्वारा अप्रैल 2020 से जुलाई20 तक 20 क्रेता कृषक के नाम पर बाहदुरगंज थाना क्षेत्र में बड़ी मात्रा में( यूरिया बेग प्रति बेग 45 किलोग्राम) पीओएस मसीन से यूरिया विक्रेता के द्वारा सप्लाई पर जांच में समिति ने संबंधित थाना क्षेत्र के क्रमशः शफीबुर रहमान एवं मोफिज आलम से पूछताछ में जाना कि यहां दोनों क्रेता किसान के नाम पर कुल 282 बेग यूरिया खाद सप्लाई दिखाई गई थी ।जबकि क्रेता कृषक शफीबुर रहमान ने जांच समिति को पूछताछ में बताया कि उनके द्वारा मात्र दो बेग (प्रति बेग 45 किलोग्राम) यूरिया खरीद हुई है और उनके नाम 145 बेग सप्लाई की गई है।
इसी प्रकार कोचाधामन क्षेत्र में जांच समिति के वरीय उपसमाहर्ता रंजीत कुमार सहित अन्य प्रमुख संबंधित विभाग के अधिकारियों के उपस्थिति में सहकारिता समिति के खाद विक्रेता के द्वारा भी अप्रैल20 से जुलाई 20 तक सूची के अनुसार मात्र एक ही खुदरा उर्वरक केता आवेद आलम को 242 बेग यूरिया विक्री करने हेतु पीओएस मसीन से खुलासा होने की जांच पर क्रेता किसान आवेद आलम ने बताया कि मेरे द्वारा मात्र तीन बेग यूरिया की खरीद हुई है। जिस आधार पर दोषी लोगों के विरूध्द जिला प्रशासन की कार्रवाई हुई है।

संवाददाता सुबोध

Recent Posts

%d bloggers like this: