December 1, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सदियों से जनजाति समाज ने भारत को आत्मनिर्भर बनाया : किरण रिजिजू

बीजेपी एसटी मोर्चा की जनसंवाद रैली

राँची:- भाजपा अनुसूचित जनजाति मोर्चा झारखंड की जनसंवाद रैली को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि आदिवासी समाज अपनी विशिष्ट संस्कृति, रीति-रिवाज, वेष-भूषा एवं कर्मठता के लिए पहचाना जाता है। विकट से विकट परिस्थितियों में भी रहते हुए आदिवासी समाज ने आत्मनिर्भर भारत की दिशा में अपनी भूमिका निभाया है।इस समाज के अंदर देशभक्ति की भावना कूट कूट कर भरी है।परंतु आज भी कुछ लोगो का मानना है कि जंगल के बीच मे रहने वाले जंगली है,परंतु जनजाति जंगली नही है।किसी भी समाज से अधिक सभ्य और विशिष्ट है।आदिवासियों की भावना स्पष्ट है कि कोई उन्हें इज्जत और आदर देगा तो उनके लिए वह जान भी देने के लिए तैयार रहते है ,परंतु उनकी इज्जत ,आबरू और आस्तित्व पर आघात पहुँचाने पर किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार रहते है। ’जनजाति मंत्रालय के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के कहा कि आजादी के बाद भी आदिवासी समाज के ऊपर अन्याय होता रहा,उनकी बातों को कभी नही सुनी गई लेकिन अटल विहारी वाजपेयी ने ही आदिवासी की भावना को महसूस करते हुए अपने वादों के अनुसार तीन राज्यो का गठन किया। उसमे से एक आदिवासी बहुल झारखंड राज्य है।साथ ही जनजाति समाज के उत्थान के लिए जनजाति मंत्रालय का गठन किया। इस कार्य को आगे बढ़ाते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जंगल मे सदियों से रहने वाले आदिवासीयों को पहली बार वनाधिकार पट्टा कानून बनाकर आदिवासी समाज को अधिकार देने का काम किया। आगे उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज को अपनी पहचान और विशिष्ठ जीवन पद्धति को बचाते हुए विकास के आधुनिक पैमानों के साथ सामंजस्य बैठते हुए आगे बढ़ने की आवश्यकता है। आगे श्री मुंडा ने कहा कि जनजाति मामलों के मंत्रालय इसी बिंदु को केंद्र में रखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन के अनुरूप कार्य कर रही है। मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष रामविचार नेताम ने कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार करने के लिए अनुसूचित जनजाति मोर्चा पूरे देश मे अपनी भूमिका निभा रही है।आगे उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत बनाने के लिए जनजाति समाज को आत्मनिर्भर होना अति आवश्यक है और यह कार्य जनजाति समाज बखूबी कर सकता है। भाजपा विधायक दल के नेता सह पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी जी ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार आदिवासी समाज की अवहेलना कर रही है।केंद्र के द्वारा जनजाति समाज के सशक्तिकरण के लिए जिन योजनाओं को संचालित किया है उसकी अवहेलना कर रही है।इसके खिलाफ में जनजाति मोर्चा पूरे राज्य में राज्य सरकार के खिलाफ आंदोलन करेगी।आगे उन्होंने कहा कि जनजाति समाज की योजनाओं का लाभ दिलाने एवं प्रधानमंत्री के संदेश को जन जन तक पहुँचाने का काम मोर्चा के कार्यकर्ता करेगी। मोर्चा प्रदेश अध्यक्ष सह विधायक शिबशंकर उराँव ने स्वागत भाषण देते हुए कहा कि प्रदेश अनुसूचित जनजाति मोर्चा अंत्योदय की नीति को जमीन में उतरते हुए मोर्चा के कार्यकर्ताओं के माध्यम से गांव-गांव अंत्योदय ग्राम समूह बनाकर स्थानिय उत्पाद और निर्माण को बढ़ावा दिया जाएगा।और प्रधानमंत्री जी के आत्मनिर्भर भारत अभियान को जमीन में उतारने का काम करेगी।कार्यक्रम में प्रदेश महामंत्री सह राज्यसभा सांसद समीर उराँव,पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्षमन गिलुआ ,अशोक बड़ाईक,बिंदेश्वर उराँव, सांसद सुनील सोरेन,डॉ अरुण उराँव,लक्षमन टुडू सहित कई उपस्थित हुए।

Recent Posts

%d bloggers like this: