November 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

दूसरी सोमवारी पर श्रद्धालुओं ने बाबा भोलेनाथ का किया वर्चुअल दर्शन

भक्तों ने अपने घर से ही भगवान शिव का किया ऑनलाइन दर्शन

राँची:- वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर दूसरी सोमवारी पर श्रद्धालुओं ने बाबा भोलेनाथ का दर्शन किया। इस दौरान भक्तों ने देवघर स्थत बाबा बैद्यनाथधाम, दुमका स्थित बाबा वासुकिनाथ धाम और रांची स्थित पहाड़ी स्थित मंदिर में पूजा अर्चना , जलाभिषेक और भगवान शिव का अपने घर से ही दर्शन किया। सावन मास में इन शिव मंदिरों में भक्तों के प्रवेश पर रोक है औरश्रद्धालु अपने घर से ही भगवान शिव का ऑनलाइन दर्शन कर आशीर्वाद ले रहे है।
राजधानी रांची स्थित प्रसिद्ध पहाड़ी मंदिर में पहली सोमवारी की तरह दूसरी सोमवारी को भी मंदिर के मुख्य द्वार पर बैरिकेटिंग नजर आयी और बड़ी संख्या में पुलिस बलों की भी तैनाती की गयी थी। जिसके कारण श्रद्धालु मंदिर पहुंचे ही नहीं, मंदिर में पुजारियों की ओर से पूजा अर्चना की गयी। खूंटी जिले आम्रेश्वर धाम में भी कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए बैरिकेटिंग की गयी है। श्रद्धालुआें के मंदिर पर प्रवेश पर प्रतिबंध है।चतरा जिले के ईटखोरी स्थित मां भद्रकाली मंदिर भी बंद है, सहस्त्रशिवलिंग का जलाभिषेक नहीं हो सका।
देवघर के बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में स्थानीय पुजारियों ने बाबा बैद्यनाथ की विधिवत पूजा अर्चना की। गर्भगृह से श्रृंगार एवं पूजा अर्चना की सीधी तस्वीर का प्रसारण किया गया।
दुमका के विश्व प्रसिद्ध बाबा बासुकिनाथ की विशेष प्रातःकालीन पूजा संपन्न हुई। मंदिर के पुजारी सदाशिव पंडा और उनके सहयोगियों ने बाबा बासुकिनाथ की विधि-विधान से पूजा की। इस सरकारी पूजा के थोड़ी देर बाद तक मंदिर का पट खुला रहा, किंतु राज्य सरकार के फैसले और झारखंड उच्च न्यायालय के आदेश का अनुपालन करते हुए किसी को मंदिर प्रांगण में प्रवेश की इजाजत नहीं दी गयी।

Recent Posts

%d bloggers like this: