November 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

बिग ब्रेकिंग- गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया, गाड़ी पलटने के बाद भागने लगा था

कानपुर:- कानपुर मुठभेड़ केस का मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया। इस खबर की आधिकारिक पुष्टि हो चुकी है। यूपी एसटीएफ की टीम विकास दुबे को लेकर जैसे ही कानपुर पहुंची, वह गाड़ी में सुरक्षाकर्मियों के पिस्टौल छीनने लगा। इसी बीच बैलेंस बिगड़ने के बाद गाड़ी पलट गई। गाड़ी पलटते ही विकास दुबे भागने लगा और पुलिस पर फायरिंग भी की। सुरक्षाकर्मियों ने भी अपने बचाव में गोलियां चलाईं, जिसके बाद विकास दुबे गंभीर रूप से घायल हो गया। सुरक्षाकर्मी उसे लेकर जल्दी अस्पताल पहुंचे। थोड़ी देर बाद डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया।
इससे पहले कानपुर में टोल प्लाजा पर जैसे ही यूपी एसटीएफ की गाड़ियों का काफिला विकास दुबे को लेकर पहुंचा था, अन्य गाड़ियों के आवागमन को रोक दिया गया था ।

बता दें कि देर रात 3:13 बजे झांसी के रक्सा टोल प्लाजा पर एसटीएफ टीम की गाड़ियों का काफिला पहुंचा और तेज गति से आगे के लिए रवाना हो गया। काफिले के पहुंचते ही झांसी पुलिस अलर्ट हो गई और टोल प्लाजा पर ट्रैफिक को रोक दिया गया।

झांसी के रक्सा टोल पर एसपी सिटी राहुल श्रीवास्तव, एसपी ग्रामीण राहुल मिठास सहित कई थानों का पुलिस बल मौके पर मौजूद थे। माना जा रहा है कि एसटीएफ की सुरक्षा को देखते हुए ट्रैफिक को टोल पर ही रोका गया था।

काल’ से बचने के लिए महाकाल की शरण में पहुंचा विकास दुबे?

गुरुवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन में कानपुर मुठभेड़ केस के आरोपी विकास दुबे को गिरफ्तार किया गया था, एसटीएफ सड़क मार्ग से लेकर उसे कानपुर के लिए रवाना हो गई थी। कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों की हत्या के मामले में विकास दुबे मुख्य आरोपी था जो कई दिनों से फरार चल रहा था।

कानपुर मुठभेड़ के मुख्य आरोपी विकास दुबे की मौत की पुष्टि SP कानपुर पश्चिम ने की।

विकास दुबे को जब लाया जा रहा था तब गाड़ी पलट गई, इसमें जो पुलिसकर्मी घायल हुए उसने उनका पिस्टल छीनने की कोशिश की। पुलिस ने उसे चारों तरफ से घेर कर आत्मसमर्पण कराने की कोशिश की जिसमें उसने जवाबी फायरिंग की। आत्मरक्षा में पुलिस ने फायरिंग की।

Recent Posts

%d bloggers like this: