November 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हूल दिवस पर पहली बार नहीं हुआ किसी बड़े कार्यक्रम का आयोजन

वंशजों ने कहा-आदिवासी रीति-रिवाज के हिसाब से सूतक में नहीं होता शुभ कार्य

राँची:- अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ विद्रोह का प्रतीक हूल दिवस पर मंगलवार को राज्य भर में कई कार्यक्रम आयोजित अमर शहीदों सिदो-कान्हू, चांद-भैरव और फूलो-झानों सहित सभी वीरों को शत-शत नमन किया गया। राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कोरोना काल में अपने आवासीय कार्यालय में ही शहीदों केचित्र पर माल्यार्पण कर वीर शहीदों को नमन किया है। वहीं कोरोना संक्रमण काल के कारण सिदो-कान्हू की जन्मस्थली साहेबगंज जिले के भोगनाडीह में इस वर्ष किसी बड़े कार्यक्रम का आयोजन नहीं किया गया। शहीद के वंशजों ने बताया कि 12 जून को छठे वंशज रामेश्वर मुर्मू की हत्या कर दी गयी थी और 13 जून को शव बरामद किया गया। आदिवासी रीति रिवाज के हिसाब से अभी घर में सूतक चल रहा है। इस समय कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जा सकता है। इस साल आदिवासी समाज में जब तक भंडान यानि श्राद्ध कर्म नहीं होता है। तब तक कोई शुभ काम नहीं किया जा सकता है। इसलिए हूल दिवस पर कोई पूजा पाठ नहीं किया जाए।

हूल दिवस पर सिद्धो-कान्हू,चांद-भैरव, फूलो-झानोकी शहादत याद की गयी
इधर, राज्यपाल द्रौपदी मुमर्मू ने राजभवन में शहीदों के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया, वहीं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने भी अपने आवास पर हूल दिवस के अवसर पर संताल विद्रोह के नायकों की तस्वीर पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए नमन किया। मुख्यमंत्री ने कहा विद्रोह का नेतृत्व करने वाले सिदो, कान्हू, चांद, भैरव, फूलों और झानों के साथ-साथ विद्रोह में शहादत देने वाले सभी वीरों का बलिदान सदैव झारखण्डवासियों को प्रेरित करेगा। यह महत्वपूर्ण दिवस है। कोरोना संक्रमण के इस दौर में कार्यक्रम करना संभव नहीं था। व्यक्तिगत रूप में लोग इस दिवस को मना रहें हैं। उन्होंने कहा कि जबतक झारखण्ड रहेगा शहीदों का नाम स्वर्णाक्षरों में लिखा जाता रहेगा।
कांग्रेस-भाजपा नेताओं नेदी श्रद्धांजलि
प्रदेश कांग्रेस द्वारा हूल दिवस पर राजधानी रांची के सिद्धो-कान्हू पार्कस्थित प्रतिमा पर माल्यार्पण कर शहीदों को नमन किया। वहींभाजपा विधायक दल के नेता बाबूलाल मरांडी समेत पार्टी के अन्य नेता भी पार्क में पहुंच कर शहीदोंकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि दी।

Recent Posts

%d bloggers like this: