December 1, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

वाम दलों ने पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोत्तरी के खिलाफ किया प्रदर्शन

राँची:- आज विभिन्न ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर झारखण्ड में 300 से अधिक जगहों पर पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में वृद्धि के खिलाफ विरोध कार्रवाई का आयोजन किया गया।
इस मौके पर वाम नेताओं ने कहा कि पूरे विश्व में कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट आ रही है लेकिन भारत सरकार रोज पैट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी कर जनता पर भारी बोझ डालने का काम कर रही है। वाम नेताओं ने कहा कि भाजपा के केन्द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने घोषणा कर दी है की तेल की कीमतों को घटाना सम्भव नहीं है . मंत्री की यह थोथी दलील लोगों को बरगलाने की कोशिश है ।
वाम दल के नेताओं ने कहा कि पेट्रोलियम उत्पादों पर सरकार विभिन्न तरह का शुल्क लगाकर उसकी कीमत तय करती है और इस प्रकार अपना खजाना भरने का काम करती है. यदि सरकार पेट्रोलियम उत्पादों पर शुल्क घटा दे तो तेल की कीमतों में कमी हो सकती है . हमारे पड़ोसी देशों में पैट्रोल- डीजल का दाम न्यूनतम रहने का यही तरीका अपनाया जाता है लेकिन मोदी सरकार तेल का दाम बढ़ाकर जनता का तेल निकाले जाने का काम कर रही है.
प्रदर्शन में सीटू , ऐटक एआईसीसीटीयू, बेफी के कार्यकर्ता शहीद चैक पर एकत्रित होकर प्रदर्शन में हिस्सा लिया। इसमें अन्य लोगों के अलावा प्रकाश विप्लव, सुभेंदू सेन, सच्चिदानंद मिश्र अनिरवान बोस, कनक चैधरी, रणोदीप भोंझो, सुनील मुखर्जी,सुप्रियो दास आलोका पूर्णेंदु महतो भुनेश्वर केवट सरिता लछमी के. पी. राय भी शामिल थे.

Recent Posts

%d bloggers like this: