November 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

प्रेमी ही निकला प्रेमिका का कातिल पुलिस ने 3 आरोपियों को किया गिरफ्तार

राँची:- रांची के तमाड़ थाना क्षेत्र में एक युवती का अपहरण कर हत्या मामले का पुलिस ने खुलासा कर लिया है। इस हत्याकांड का मुख्य आरोपी मृतका का का प्रेमी ही निकला।
रांची के ग्रामीण पुलिस अधीक्षक नौशाद आलम ने शुक्रवार को पत्रकारों को बताया कि तमाड़ थाना क्षेत्र की रहने वाली गुरुवारी कुमारी का लंबे समय से गांव के ही रंजीत पाहन से प्रेम प्रसंग का मामला चल रहा था। उन्होंने बताया कि प्रेमी ने धोखा देकर दूसरी युवती से शादी कर ली। इसकी जानकारी जब गुरुवारी को मिली तो उसने रंजीत को यह चेतावनी दी कि वह उससे भी शादी कर ले ,अन्यथा वह उसे यौन शोषण के मामले में जेल भिजवा देगी। इससे रंजीत पाहन डर गया और उसने शादी के लाल कपड़े में गुरुवारी को उसके साथ घर से अपने साथ रांची के नामकुम स्थित एक मकान में ले आया। इसके बाद 15 जून को घूमाने के नाम पर उसे सोनहातू के मरांगबुरु पहाड़ी ले गया जहां पहले से ही उसके तीन अन्य साथी मौजूद थे। रंजीत ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर गुरुवारी की गला दबाकर हत्या कर दी उसके बाद शव को पहाड़ी की चोटी पर ले जाया गया जहां से निवस्त्र कर उसे ऊपर से धकेल दिया गया।
ग्रामीण पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गुरुवार के परिजन आठ 10 दिनों से उसे खोज रहे थे। इस मामले में गुरुवारी के पिता की ओर से 25 जून को औपचारिक रूप से थाने में शिकायत दर्ज कराई गई। रांची के वरीय पुलिस अधीक्षक की ओर से मामले के उद्भेदन को लेकर एक एसआईटी का गठन किया गया। छानबीन में यह बात सामने आएगी रंजीत महान और गुरुवारी के बीच लंबे अरसे से प्रेम प्रसंग का मामला चला रहा था। जिसके बाद पुलिस ने रंजीत को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो उसने सारी सच्चाई उगल दी। रंजीत की निशानदेही पर मृतका के क्षत विक्षत शव को बरामद किया गया और नामकुम स्थित मकान से जेवरात और मोबाइल समेत अन्य सामान बरामद किए गए। मौके से पुलिस ने साक्ष्य के तौर पर मृतिका के वस्त्र को भी बरामद किया है।
पुलिस ने इस मामले में दो अन्य आरोपियों भुरगु राम महतो और राम सिंह महतो को भी गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है जबकि आरोपियों का एक अन्य सहयोगी फरार हो गया है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए छापामारी अभियान चला रही है। ग्रामीण पुलिस अधीक्षक ने बताया कि मामले में कई साक्ष्य जुटाए जा चुके हैं और अन्य साक्ष्य जुटाने के साथी स्पीडी ट्रायल के माध्यम से आरोपियों को सजा दिलाई जाएगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: