December 5, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

डिस्टलरी पुल व तालाब की दयनीय स्थिति पर चिंता, जांच की मांग

राँची:- प्रदेश प्रोफेशनल कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष आदित्य विक्रम जायसवाल ने अपनी टीम के साथ आज अपराह्न 3ः30 बजे कोकर डिस्टलरी पुल स्थित तालाब व पार्क का जायजा लिया। इस दौरान कोकर डिस्टलरी तालाब एवं वहां बने पार्क की दयनीय स्थति पर चिंता जताते हुए कहा कि पूर्व कि भाजपा सरकार व निगम ने करोड़ो रूपया तालाब का सौंदर्यीकरण के नाम पर बर्बाद कर दिया गया है।
आदित्य विक्रम जायसवाल ने कहा कि पूर्व कि भाजपा सरकार व नगर निगम का विफलता का जीता-जागता उदाहरण डिस्टलरी तालाब है, जहां करोड़ो रूपया खर्च कर भ्रष्टाचार का अड्डा बनाया गया। 100 साल पूराना तालाब को खत्मकर पार्क का निर्माण कराया जाना नगर निगम की गलत मंशा थी। उन्होंने कहा कि डिस्टलरी तालाब के सौंदर्यीकरण के नाम पर सिर्फ सरकारी पैसा का दुरूपयोग हुआ है। वर्तमान में नगर निगम फिर से सौदर्यीकरण नाम पर 75 लाख रूपया सैंक्शन कराने के लिए उतारू हैं। गौरतलब हो कि डिस्टलरी तालाब कोकर में माननीय उच्च न्यायालय ने दो तालाब निर्माण के लिए नगर निगम को कहा था जोकि आज तक नहीं बन पाया है ।
झारखंड प्रदेश प्रोफेशनल कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष आदित्य विक्रम जायसवाल ने सरकार से मांग की है कि डिस्टलरी तालाब का उच्च स्तरी जांच हेतु कमेटी बनायी जाए ताकि तालाब सौदर्यीकरण के समय खराब समान इस्तेमाल हुआ है और सरकारी पैसा का दुरुपयोग हुआ है उसका उजागर किया जाए तथा संबंधित व्यक्तियों जो दोषी है उसपर कार्रवाई हो सके।
आदित्य विक्रम जायसवाल ने कहा कि पूर्ववर्ती भाजपा की सरकार व नगर निगम ने राजधानी रांची में तालाब सौंदर्यीकरण एवं नाली निर्माण, सिवरेज-ड्रेनेज के नाम पर करोड़ो रूपया का सरकारी पैसा का दुरुपयोग किया है। शहर में नाले की स्थिति, तालाब की स्थिति, साफ-सफाई की स्थिति बहुत ही दयनीय एवं चिंतनीय है। इस आलम का जीता-जागता उदाहरण रांची बड़ा तालाब, कोकर डिस्टलरी तालाब, एवं हरमू नदी है, जहां लोग जाने से कतराने लगे है, ऐसी दयनीय स्थिति हो गई है।
इस अवसर पर राहुल राय, कृष्णा सहाय ,अंशुमाला ,उर्मिला कुमारी, अमरजीत सिंह, राजीव चैरसिया, प्रेम कुमार, पुनित, आयुष अग्रवाल आदि मौजूद थे।

%d bloggers like this: