December 6, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

12 स्थानों पर बनेगा यातायात नियंत्रण कक्ष, ट्रैफिक पोस्ट व पार्किंग के लिए स्थान चिह्नित

चाईबासा:- पश्चिमी सिंहभूम जिला उपायुक्त अरवा राजकमल एवं पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत माहथा के संयुक्त अध्यक्षता में आज उपायुक्त गोपनीय कार्यालय परिसर में चाईबासा जिले में शहर के यातायात व्यवस्था को सुदृढ़ करने हेतु एक महत्वपूर्ण बैठक का आयोजन किया गया। शहर में यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाने हेतु आगामी बुधवार को सिंहभूम(कोल्हान) प्रमंडल के आयुक्त वीरेंद्र भूषण तथा पुलिस उपमहानिरीक्षक राजीव रंजन के अध्यक्षता में आयुक्त कार्यालय में बैठक निर्धारित है। आज के उक्त बैठक में सदर अनुमंडल पदाधिकारी -सह- जिला परिवहन पदाधिकारी परितोष कुमार ठाकुर, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अमर कुमार पांडे, पुलिस उपाधीक्षक(मुख्यालय) सुधीर कुमार सहित कार्यपालक अभियंता पेयजल, पथ निर्माण विभाग -सह- राष्ट्रीय उच्च प्रमंडल चाईबासा, कार्यपालक पदाधिकारी, नगर परिषद, चाईबासा, यातायात निरीक्षक, चाईबासा, थाना प्रभारी, सदर चाईबासा सहित अन्य संबंधित पदाधिकारी उपायुक्त गोपनीय कार्यालय कक्ष में उपस्थित रहे।
बैठक के उपरांत उपायुक्त के द्वारा जानकारी दी गई कि आगामी दिन आयुक्त एवं पुलिस उपमहानिरीक्षक के अध्यक्षता में आयोजित बैठक से पूर्व जिला स्तर पर आपसी समन्वय हेतु बैठक का आयोजन किया गया है, जिस के अनुरूप शहर में 12 स्थानों पर यातायात नियंत्रण को लेकर ट्रैफिक पोस्ट का निर्माण के साथ-साथ 10 स्थान पार्किंग स्थल के रूप में चयनित किए गए हैं तथा शहर के सड़कों पर जो अतिक्रमण किया गया है जिसके कारण शहर में सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन में भी कठिनाई हो रही है और विशेषकर कोरोनावायरस नियंत्रण में भी। उन्होंने कहा कि ऐसी परिस्थिति में किसी भी दुकान को तोड़ने तथा जो जहां व्यवसाय कर रहे हैं उस स्थान से हटाने की कोई आवश्यकता नहीं है तथा आमजन को सहयोग देते हुए सड़क पर थोड़ा और ज्यादा जगह देते हुए दुकानदारों को स्थान से पीछे की तरफ ले जाने के संबंध में चर्चा हुआ है।

उपायुक्त ने बताया कि दुकानदारों के द्वारा अक्सर देखा जाता है कि वह अपने सामान को दुकान से थोड़ा आगे तक रखते हैं जिसके कारण अगर वहां पर किसी वाहन के द्वारा पार्किंग किया जाता है तो बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करना असंभव हो जाता है इसीलिए दुकान को थोड़ा अंदर की तरफ यथा समान एवं छत को अंदर की तरफ रखेंगे तो प्रशासन वहां मार्किंग करते हुए आने वाले ग्राहकों से सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करवा सकता है। उपायुक्त ने बताया कि कोरोना के इस काल में अभी किसी को लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए तथा सोशल डिस्टेंसिंग के अनुपालन को ध्यान में रखते हुए ट्रैफिक नियंत्रण भी महत्वपूर्ण है। इसके साथ-साथ आज के बैठक में रोड मरम्मती, ट्रक परिचालन से संबंधित मुद्दे यथा बड़ी बाजार में सड़क मरम्मती की आवश्यकता है और कुछ स्थानों पर पीएचडी और सड़क निर्माण विभाग और नगरपालिका के बीच कभी-कभी आपसी समन्वय नहीं होने के कारण कुछ स्थानों पर सड़क को क्षतिग्रस्त कर संबंधित कार्य करने वाली एजेंसी के द्वारा रखा गया है, उसके यथाशीघ्र निर्माण से संबंधित योजना भी तैयार किया गया है।
उपायुक्त ने बताया कि जैसा कि आप सभी को ज्ञात होगा कि पूर्व में पिछले साल शहर में वन वे ट्रैफिक व्यवस्था को लागू किया गया था जिसमें अच्छा सहयोग यहां की जनता के द्वारा मिला है और काफी स्मूथ ट्रैफिक मूवमेंट हम लोग को देखने के लिए मिला है तो उम्मीद करेंगे कि और बेहतर स्मूथ ट्रैफिक मूवमेंट के लिए जिला प्रशासन जो प्लान बनाया है आयुक्त महोदय के अध्यक्षता में आयोजित बैठक में सहमति प्राप्त होने के उपरांत इसके अनुपालन को लेकर जिले के सभी सम्मानित नागरिकों से अनुरोध रहेगा कि जैसा पिछले बार आप लोगों ने प्रशासन को सहयोग दिया है वैसा ही इस बार भी सहयोग करें ताकि आपको एक अच्छा ट्रैफिक व्यवस्था प्रशासन के द्वारा उपलब्ध करवाया जाए और शहर में स्मूथ ट्रैफिक मूवमेंट रहे और कोरोनावायरस से बचने के लिए आवश्यक सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का अनुपालन सड़कों पर भी संभव हो सके।

Recent Posts

%d bloggers like this: