November 28, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

सारंडा जंगल के बीच दुर्गम गांव में रहने वाली महिला को सांप ने डंसा, पुलिस की तत्परता ने बचायी जान

बाइक से स्कॉट कर दो पुलिस पिकेट पार कराया, फिर एम्बुलेंस की सुविधा मिलने पर अस्पताल में कराया जा सका भर्त्ती

चाइबासा:- झारखंड के पश्चिमी सिंहभूम जिले के सुदूरवर्ती गुदड़ी थाना अंतर्गत स्थित बुरुगुलीकेरा गांव रहने वाली एक 30वर्षीय महिला को शनिवार रात करीब 10 बजे सांप ने काट लिया। इसकी सूचना जैसे ही बुरुगुलीकेरा पिकेट में तैनात सैट-02 के जवान तारा चंद महतो को मिली,उसने तुरंत मोबाईल से सोनुआ थाना प्रभारी को सूचना दी और 30वर्षीय महिला सत्येंज बुढ़ को दुर्गम इलाके में बाइक से स्कॉट करते हुए किसी तरह से लोढ़ाई पिकेट तक पहुंचाया। फिर लोढ़ाई पुलिस पिकेट द्वारा महिला को स्कॉट करते हुए बाइक से ही पनसुवा डैम पहुंचाया गया,जहां सोनुआ थाना द्वारा सूचना मिलने पर पहले से ही एम्बुलेंस की व्यवस्था कर रखा गया था। पनसुवा डैम से पुलिस ने उस महिला को एम्बुलेंस के माध्यम से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोनुआ में भर्त्ती कराया गया,जहां महिला इलाजरत है और उसकी स्थिति खबरे से बाहर है।
बताया गया है कि गुदड़ी थाना अंतर्गत बुरुगुलीकेरा घोर नक्सल प्रभावित और सुदूर दुर्गम ग्रामीण इलाका है,जहां वर्षा ऋतु में चार पहिया वाहन से आवागमन संभव नहीं है। लेकिन चाईबासा पुलिस की तत्परता से सांप डंसने के बाद महिला को समय पर इलाज के लिए अस्पताल में भर्त्ती कराया जा सका और जान बच सकी।
गौरतलब है कि बुरुगुलीकेरा गांव में ही हेमंत सोरेन के नेतृत्व में इस वर्ष सरकार गठन के तुरंत बाद सात आदिवासियों की सामूहिक नृशंस हत्या कर दी गयी थी। इस हमले के बाद गांव चर्चा में आया था।

Recent Posts

%d bloggers like this: