December 2, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

राजकीय सम्मान के साथ साहिबगंज के मुनीलाल घाट पर आज हुई शहीद कुंदन की अंत्येष्टि

साहिबगंज:- लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हिंसक झड़प में शहीद कुंदन कुमार ओझा की अंत्येष्टि आज राजकीय सम्मान के साथ की गई। साहेबगंज के मुनिलाल श्मशान घाट पर शहीद का अंतिम संस्कार किया गया। इससे पूर्व शहीद का पार्थिव शरीर पटना से आज सुबह साहेबगंज स्थित डिहारी गांव पहुंचा था, जहां सेना के जवानों ने उन्हें सलामी दी थी

पूरे राजकीय सम्मान के साथ हुई अंत्योष्टि

शहीद कुंदन कुमार ओझा की राजकीय सम्मान के साथ आज साहेबगंज के मुनिलाल श्मशान घाट पर अंत्येष्टि की गई। अंतिम संस्कार के दौरान बड़ी संख्या में लोग श्माशान घाट पर मौजूद थे। बता दें कि कल शाम इनका पार्थिव शरीर पटना एयरपोर्ट पहुंचा था, जहां इन्हें श्रद्धांजलि व सलामी दी गयी थी। इसके बाद सड़क मार्ग से कल देर शाम शहीद कुंदन का पार्थिव शरीर साहिबगंज जिले के लिए रवाना किया गया था

साहेबगंज जिले के सदर प्रखंड के डिहारी गांव स्थित आवास पर शहीद का पार्थिव शरीर पहुंचते ही परिजन रोने-बिलखने लगे थे। पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई। अंतिम दर्शन के लिए पार्थिव शरीर को रखने के साथ ही जन सैलाब उमड़ पड़ा।शहीद कुंदन ओझा अमर रहे के नारों से पूरा गांव गुजायमान हो उठा। शहीद कुंदन का अंतिम संस्कार मुनिलाल श्मशान घाट पर किया गया।

अंत्येष्टि से पूर्व शहीद कुंदन कुमार ओझा को सेना के जवानों द्वारा सलामी दी गई। रामगढ़ व दानापुर कैंट से आये सेना के जवानों ने शहीद कुंदन को सलामी दी। इसके बाद पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था।

Recent Posts

%d bloggers like this: