November 27, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

ऐसी मान्यताएं हैं : भंडार कोण से शुरू हुई बारिश शुभ संकेत , रिकॉर्ड फसल की उम्मीद

राँची:- झारखंड में तय समय से लगभग दो दिन पहले ही इस बार मॉनसून के आ जाने से किसानों के चेहरे पर खुशहाली देखी जा रही है। शुरुआती दो-तीन दिनों में ही भारी बारिश ने रांची जिले के किसानों चेहरे पर चमक ला दी है और वे अब सब्जी के साथ धान की खेती में जुट गए हैं।
रांची जिले के नामकुम प्रखंड अंतर्गत देवगाई गांव के काफी बुजुर्ग और अनुभवी किसान गोपाल कच्छप बताते हैं कि झारखंड की मान्यताओं के अनुसार इस बार भंडार कोण यानी उत्तर पूर्व से बारिश की शुरुआत हुई है। यह काफी शुभ संकेत देने वाला है। इनका कहना है कि ऐसी बारिश पिछले एक दशक में देखने को नहीं मिली है। उन्होंने होली दहन के दौरान ही आग की उठने वाली लपटें और हवा में उड़ रहे धुएं की रूख को देखकर ही इस वर्ष अच्छी बारिश की भविष्यवाणी की थी।
गांव के साधो उरांव मॉनसून की बारिश को देखते हुए बीज खरीदने की तैयारी में जुटे है। इनका कहना है कि सब्जी के साथ अब वे धान की खेती की में लग गए हैं। उम्मीद है कि इस बार धान की खेती से अच्छी कमाई होगी।
पुष्कर कच्छप, भगत ठाकुर और दीपक तिग्गा जैसे किसान भी झमाझम बारिश से बेहद खुश हैं। बारिश ने इनके मन में भी उम्मीद जगाई है कि इस बार अच्छी फसल होने के साथ कमाई भी अच्छी होगी।
वर्षा आधारित खरीफ की खेती के लिए समय से पूर्व ही मानसून का आना अच्छा संकेत माना जा रहा है। बारिश को देखते हुए अन्नदाताओं को लग रहा है कि अच्छी उपज तो होगी ही दाम मिलने से उनकी माली हालत भी जरूर सुधरेगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: