December 2, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

65 साल बाद  साल के सबसे बड़े दिन 21 जून को लगेगा सूर्य ग्रहण

किशनगंज:- साल के सबसे बड़े दिन 21 जून को सूर्यग्रहण लग रहा है। 65 साल बाद सबसे बड़े दिन यह सूर्य ग्रहण आ रहा है। इसके पहले 1955 में 20 जून को सूर्यग्रहण आया था।

सालों बाद इस प्रकार के ग्रहण के आने से विश्व में भय का वातावरण निर्मित होगा, शास्त्रानुसार जितना संभव हो सकें व्यक्ति को अपने धर्म परंपरा अनुरूप अपनी साधना आराधना ध्यान को बल देना चाहिए। 21 जून को उत्तरी गोलार्ध में सबसे बड़ा दिन होता है। पृथ्वी के 66.5 अंश झुके हुए होने तथा इसी स्थिति में सूर्य की परिक्रमा के कारण ही पृथ्वी पर दिन रात की अवधि में असमानता पाई जाती है। जब सूर्य विषुवत रेखा से उत्तर में लंबवत चमकता है, तो उस समय उत्तरी गोलार्ध में दिन बड़े और रातें छोटी होती है तथा दक्षिणी गोलार्ध में सीधे चमकने पर इसके विपरीत रातें बड़ी और दिन छोटे होते हैं। 21 जून को जब सूर्य कर्क रेखा (23.5 अंश उत्तरी अक्षांश) पर लंबवत चमकता है। उस समय उत्तरी गोलार्ध में सबसे बड़ा दिन तथा रात सबसे छोटी होती है। पं. राजदीप शर्मा ने बताया कि सूर्य ग्रहण से महामारी के इस काल में बिना नियम के स्थिति और विपरीत आयाम में जा सकती है और रोगों में बढ़ोतरी होगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: