December 5, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

रास चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी की होगी जीत-आलमगीर आलम

राँची:- झारखंड प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की बैठक प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में आज प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ रामेश्वर उरांव की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक में विधायक दल नेता आलमगीर आलम मुख्य रूप से उपस्थित हुए एवं बैठक का संचालन किया। बैठक में कांग्रेस कोटे के चारों मंत्री सहित सभी 17 विधायक उपस्थित हुए। पूर्वाह्न 11.30 बजे से अपराह्न 05.45 बजे तक चली।
बैठक के उपरांत मीडिया से बातचीत करते हुए विधायक दल नेता आलमगीर आलम ने कहा की बैठक में 19 जून को राज्यसभा चुनाव में कांग्रेसी उम्मीदवार शहजादा अनवर की विजय सुनिश्चित कराने को लेकर चर्चा हुई, कोविड-19 के चलते जिला एवं विधानसभा क्षेत्रों में हो रही परेशानियों को लेकर भी चर्चा हुई। कोरोना महामारी के चलते हमसभी विधायकगण एवं कांग्रेस नेतागण वीडियो कॉन्फ्रेसिंग से बातचीत किया करते थे। अनलॉक हुआ, तो हम लोग अपने अपने जिले और विधानसभा की समस्याओं को लेकर विधायकों के साथ मंथन किया। उन्होंने कहा कि राज्यसभा के चुनाव को लेकर एक नहीं अनेक बार चुनाव के परिणाम संख्या बल के विपरीत भी सामने आए। उम्मीदवार देने से हमने निर्दलीय विधायकों एवं अन्य समान विचाराधारा वाले दल एवं विधायकों से बात करके उम्मीदवार दिया था। उनका आश्वासन भी हमें मिला है। हम यह मानते हैं कि 26 वोट अगर हमें मिलता है और दूसरा वरीयता पर अगर हमें वोट मिला, तो हम चुनाव अवश्य जीत सकते हैं। विधायकों ने अपने-अपने क्षेत्र की समस्याओं से भी अवगत कराया। सैकड़ों लोग बेरोजगार हो गए हैं, प्रवासी मजदूर जो बाहर से आ रहे हैं, उन पर चर्चा हुई, सबको संयम बरतना चाहिए। सिफ मनरेगा के तहत हीं गांव में रोजगार मिल रहा है। बिरसा हरित योजना जो हम चला रहे हैं उसकी सर्वत्र प्रशंसा हो रही है। झारखंड सरकार यहां के गैरमजरूआ जमीनों एवं रैयतों को भी मजदूरी के काम में लगायेगी। संगठन के कार्यकर्ताओं को भी इससे जोड़ा जायेगा। गरीबों के लिए विशेषकर खाद्य आपूर्ति मंत्रालय द्वारा राशन और भोजन देने के लिए व्यापक काम किए गए हैं और आगे भी जारी रहेगा। एक सर्वे में62 प्रतिशत कुशल श्रमिक हैंजिनके पास कई हुनर है उनको काम देना है, पढ़े लिखे लोग जो बेरोजगार हो गए हैंउनका भी रोडमैप तैयार किया जा रहा है। मनरेगा के कार्य दिवस के लिए 200 दिन का काम केंद्र सरकार से मांग की गई है। कोविड-19 के बाद परिस्थितियां बदली है और 200 दिन अगर हम काम करेंगे तो मजदूरों का पलायन रुकेगा और मजदूरोंकी मजदूरी भी 300 दिए जाने की मांग की गई। एक प्रश्न के उत्तर में उन्होंने कहा कि निश्चित तौर पर केंद्र सरकार की नीति निर्धारण में कमियां हैं यही मनरेगा मजदूरों को गोवा में रू. 300 तमिलनाडु में रू. 200 दिए जाते हैं जबकि झारखंड जैसे गरीब प्रदेशों में सिर्फ 194 दिया जाता है क्या मापदंड तय किया है केन्द्र की सरकार ने।
प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रामेश्वर उराॅंव ने कहा कि राज्यसभा चुनाव के मौके पर संख्या बल किसी पार्टी को ज्यादा रहने के बाद भी निर्णय अलग आये हैं। झारखण्ड में कई राज्यसभा के चुनाव हुए हैं, जिसका परिणाम हमलोगों ने देखा है। चुनाव के मद्देनजर निर्दलीय विधायकों से बातचीत चल रही है, हो सकती है बात बने। हमारे पास तो पैसे नहीं हैं और न हीं हमारे पास इस तरह का कोई व्यवस्था है। हम अपने विचारधारा वाले दल और विधायकों से बात कर रहे हैं और उनके साथ राज्यसभा चुनाव में निश्चित रूप से विजय हासिल करेंगे।
उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के पास अपार धन संग्रह हो गया है और लोगों का कहना है कि उनके द्वारा विधायकों की खरीद-फरोख्त का प्रयास भी किया जा रहा है। विधायकों द्वारा सरकार की शिकायत किए जाने के संदर्भ में पूछे गये सवाल पर डाॅ0 रामेश्वर उराॅंव ने कहा कि विधायकों की ओर से कुछ शिकायते जरूर आयी है, हम इससे इनकार नहीं कर रहे हैं। सरकार द्वारा गठित कंट्रोल रूम में जो काम होता रहा है उसमें सब अधिकारी तो नहीं, लेकिन कुछ अधिकारी ऐसे भी रहे हैं जो फोन नहीं उठाते हैं। हम लोगों ने मुख्यमंत्री से बात किया है और हम उम्मीद करते हैं कि इस संदर्भ में आवश्यक कार्रवाई होगी। कपड़ा उद्योग खोलने के संदर्भ में उन्होंने कहा अभी निर्णय बाकी है एवं केंद्र सरकार ने गाइडलाइन जारी किया है हमारी कोशिश है कि हर तरह की आर्थिक गतिविधियां संचालित हो, लेकिन परिस्थितियों का मूल्यांकन करके ही हम इस पर निर्णय करेंगें।
बैठक में राज्यसभा के उम्मीदवार शहजादा अनवर ने सभी विधायकों को धन्यवाद एवं आभार प्रकट किया।
आज की बैठक में झारखंड सरकार में मंत्री बादल पत्रलेख, बन्ना गुप्ता, विधायक बंधु तिर्की, इरफान अंसारी, प्रदीप यादव, दीपिका पांडे सिंह, अंबा प्रसाद, ममता देवी, रामसहिस सिंह, रामचन्द्र अकेला, नमन विक्सल कोनगाड़ी, राजेश कच्छप, भूषण बाड़ा, पूर्णिमा नीरज सिंह, सोनाराम सिंकू सहित सभी विधायक उपस्थित थे। बैठक में प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्यकारी अध्यक्ष केशव महतो कमलेश, प्रवक्ता आलोक कुमार दूबे, लाल किशोरनाथ शाहदेव, डाॅ0 राजेश गुप्ता छोटू, शमशेर आलम, राकेश किरण महतो, राजीव रंजन प्रसाद व्यवस्था संभाल रहे थे।

%d bloggers like this: