November 30, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लॉकडाउन में 1.67लाख लोगों को मिला जॉब कार्ड

कोडरमा में मनरेगा में 48.7प्रतिशत महिलाओं का मिला काम

राँची:- वित्तीय वर्ष 2020-21 में कोडरमा जिले में जितने व्यक्तियों को मनरेगा योजनाओं में रोजगार उपलब्ध कराया गया है, उनमें 48.7 प्रतिशत महिलाएं है। इस मामले में कोडरमा राज्य में प्रथम स्थान पर है। कोडरमा में मनरेगा पेमेंट भी ससमय मिल रहा है।
कोडरमा के उपायुक्त ने बताया कि जिले में आज की तिथि में हर पंचायत में औसतन 155 मजदूर काम कररहे है। जिले में कुल एक्टिव लेबर में से 27प्रतिशत मजदूर आज की तिथि में काम कर रहे है। इस मामले में कोडरमा राज्य में चौथे नंबर पर है। कोडरमा जिले में दूसरे राज्यों से लौटे 12539 श्रमिकों के नाम जॉब कार्ड में जोड़ते हुए राज्य में सर्वाधित 11295 नये जॉब कार्ड निर्गत किये है। क्वारंटाइन अवधि पूर्ण करने के पश्चात सभी इच्छुक व्यक्तियों को गांव में ही मनरेगा में रोजगार मिलेगा।
राज्य में लॉकडाउन के बाद घर वापस लौटने वाले प्रभारी श्रमिकों को जॉब कार्ड उपलब्ध कराने का सिलसिला जारी है। इस वर्ष 1.14लाख परिवारों के 1.67 लाख लोगों को जॉब कार्ड उपलब्ध कराया जा चुका है, वहीं जॉब कार्ड उपलब्ध कराने में प्रतिदिन प्रगति हो रही है। इस वर्ष लॉकडाउन के बाद अब तक सबसे अधिक कोडरमा में 12 हजार 539 लोगों को जॉब कार्ड उपलब्ध कराया गया, वहीं बोकारो में 11601 लोगों को, साहेबगंज में 10773, गिरिडीह में 9405, पूर्वी सिंहभूम में 9131, पलामू में 9087, गोड्डा में 8816, धनबाद में 8811, गढ़वा में 8002, जामताड़ा में 7706, सरायकेला-खरसावां जिले में 7555, हजारीबाग में 7014, पश्चिमी सिंहभूम में 6747, रांची में 6547, दुमका में 5904, लातेहार में 5323, सिमडेगा में 5305, देवघर में 5090, गुमला में 5015, रामगढ़ में 4226, खूंटी में 4095, पाकुड़ में 3684, चतरा में 2335 और लोहरदगा जिले में 2328 लोगों को इस वर्ष जॉब कार्ड उपलब्ध कराया गया है।

Recent Posts

%d bloggers like this: