November 24, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

हर परिवार को रोजगार व गरीबों को अनाज उपलब्ध कराने के लिए सरकार प्रतिबद्ध-रामेश्वर उरांव

कोरोना योद्धा सफाईकर्मियों को किया गया सम्मानित,

जरूरतमंद परिवारों के बीच अनाज का वितरण

राँची:- प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की झारखंड राज्य इकाई की ओर से आज रांची के डोरंडा स्थित 56 सेट मैदान में लॉकडाउन के कोरोना योद्धा सफाई कर्मियों को गमछा देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सह वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने करीब पांच सौ गरीब परिवारों के बीच अनाज का वितरण भी किया।
इस मौके पर डॉ. उरांव ने कहा कि कोरोना वायरस के राष्ट्रव्यापी पूर्ण तालाबंदी के बीच राज्य सरकार ने हर जरुरतमंद परिवारों को अनाज उपलब्ध कराने का काम किया, देशभर के विभिन्न हिस्सों में फंसे प्रवासी श्रमिकों को आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी गयी और उन्हें हवाई, ट्रेन और बसों के माध्यम से सुरक्षित तरीके से घर वापस पहुंचाने में मदद की गयी। इसके अलावा उन्हें क्वारंटाइन सेंटर में रखने और क्वारेंटिन अवधि पूरा हो जाने के बाद गांव-पंचायत में ही उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में मनरेगा और अन्य योजनाएं शुरू की गयी। अब बारिश का मौसम आने वाला है, ऐसे में पौधरोपण और अन्य निर्माण योजनाओं के माध्यम से सिर्फ प्रवासी श्रमिकों ही नहीं, बल्कि यहां रहने वाले सभी श्रमिकों को भी रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में राजस्व संग्रहण के काम में कमी आयी है,ऐसे में केंद्र सरकार से आर्थिक पैकेज और अगले छह महीने तक जरूरतमंद परिवारों को अनाज मुहैय्या कराने में सहयोग की अपील की गयी है।
प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की झारखंड राज्य इकाई के चेयरमैन आलोक कुमार दूबे ने कहा कि संकट के इस दौर में कोरोना योद्धाओं की कर्त्तव्यनिष्ठा की सभी सराहना कर रहे है, वहीं राज्य सरकार के अलावा आर्थिक लोग से संपन्न लोगों से भी अपील है कि संकट की इस घड़ी में जरूरतमंद परिवारों की मदद के लिए लोग आगे आये।

कोरोना योद्धा सफाईकर्मियों को किया गया सम्मानित,

जरूरतमंद परिवारों के बीच अनाज का वितरण

राँची:- प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की झारखंड राज्य इकाई की ओर से आज रांची के डोरंडा स्थित 56 सेट मैदान में लॉकडाउन के कोरोना योद्धा सफाई कर्मियों को गमछा देकर सम्मानित किया गया। इस मौके पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित झारखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सह वित्त तथा खाद्य आपूर्ति मंत्री डॉ. रामेश्वर उरांव ने करीब पांच सौ गरीब परिवारों के बीच अनाज का वितरण भी किया।
इस मौके पर डॉ. उरांव ने कहा कि कोरोना वायरस के राष्ट्रव्यापी पूर्ण तालाबंदी के बीच राज्य सरकार ने हर जरुरतमंद परिवारों को अनाज उपलब्ध कराने का काम किया, देशभर के विभिन्न हिस्सों में फंसे प्रवासी श्रमिकों को आर्थिक सहायता उपलब्ध करायी गयी और उन्हें हवाई, ट्रेन और बसों के माध्यम से सुरक्षित तरीके से घर वापस पहुंचाने में मदद की गयी। इसके अलावा उन्हें क्वारंटाइन सेंटर में रखने और क्वारेंटिन अवधि पूरा हो जाने के बाद गांव-पंचायत में ही उन्हें रोजगार उपलब्ध कराने की दिशा में मनरेगा और अन्य योजनाएं शुरू की गयी। अब बारिश का मौसम आने वाला है, ऐसे में पौधरोपण और अन्य निर्माण योजनाओं के माध्यम से सिर्फ प्रवासी श्रमिकों ही नहीं, बल्कि यहां रहने वाले सभी श्रमिकों को भी रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन में राजस्व संग्रहण के काम में कमी आयी है,ऐसे में केंद्र सरकार से आर्थिक पैकेज और अगले छह महीने तक जरूरतमंद परिवारों को अनाज मुहैय्या कराने में सहयोग की अपील की गयी है।
प्राईवेट स्कूल्स एंड चिल्ड्रेन वेलफेयर एसोसिएशन की झारखंड राज्य इकाई के चेयरमैन आलोक कुमार दूबे ने कहा कि संकट के इस दौर में कोरोना योद्धाओं की कर्त्तव्यनिष्ठा की सभी सराहना कर रहे है, वहीं राज्य सरकार के अलावा आर्थिक लोग से संपन्न लोगों से भी अपील है कि संकट की इस घड़ी में जरूरतमंद परिवारों की मदद के लिए लोग आगे आये।

Recent Posts

%d bloggers like this: