December 6, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

लॉकडाउन में तीरंदाजी टीम को ऑनलाइन प्रशिक्षण

सरायकेला:- सरायकेला -खरसावां जिले में तीरंदाजी एकेडमी के सभी प्रशिक्षुओं को लॉकडाउन में घर भेज दिया गया है। लेकिन एकेडमी द्वारा वाट्सएप्प ग्रुप बनाकर खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देकर उनके फिटनेस को बरकरार रखने की कोशिश जारी है। कोरोना बंदी के चलते यहां मार्च महीने से ही प्रशिक्षण का काम बंद है। प्रशिक्षण ठप होने से ग्राउंड की हालत खराब होती जा रही है। हर तरफ झाड़ियां उग आयी हैं। एकेडमी के भवन में क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है। इस कारण ग्राउंड की देखरेख नहीं हो पा रही है, क्योंकि प्रशासन का लगातार आना-जाना लगा रहता है।
सरायकेला तीरंदाजी एकेडमी में वर्तमान में 26 तीरंदाज प्रशिक्षण ले रहे हैं। नवंबर-दिसंबर से शुरू होने वाली प्रतियोगिताओं के मद्देनजर खिलाड़ियों के फिटनेस को बरकरार रखने हेतु एकेडमी ने नयी पहल की है। वाट्सऐप ग्रुप बनाकर प्रशिक्षक प्रतिदिन खिलाड़ियों को प्रशिक्षण दे रहे हैं। फिटनेस बरकरार रखने के लिए टिप्स भी दे रहे है।
इस बारे में जानकारी देते हुए एकेडमी के मुख्य कोच बीएस राव ने बताया कि कोरोना बंदी के बीच खिलाड़ियों को घर भेजा गया है। जिससे प्रशिक्षण पर प्रभाव पड़ रहा है। लेकिन खिलाड़ियों का प्रदर्शन ज्यादा प्रभावित न हो, इसलिए उनको ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ताकि उनका फिटनेस बरकरार रहे। जब कोरोनाबंदी के बाद फिर से प्रशिक्षण शुरू होगा, तो फिर बच्चों को फिजिकली ट्रेंड करने में सहूलियत होगी। हालांकि इन्हें बेहतर प्रदर्शन करने हेतु चार-पांच महीने प्रशिक्षण देना होगा।
सह कोच हिमांशु मोहंती ने बताया कि प्रशिक्षण ग्राउंड में स्थित भवन को क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है। ऐसे में फिलहाल कोई उधर जाता नहीं है। प्रशिक्षण बंद होने से ग्राउंड की हालत खराब हो गयी है। जिसे कोरोनाबंदी के बाद ठीक करना होगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: