December 6, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

19कोरोना पॉजिटिव मरीजों की पुष्टि, संख्या बढ़कर 613 हुई

राँची:- झारखंड के अलग-अलग जिले से रविवार रात आठ बजे तक 19 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पुष्टि हुई है। इसमें सबसे अधिक 10 जमशेदपुर,तीन हजारीबाग, साहेबगंज में 2, धनबाद,रांची, लोहरदगा व रामगढ़ जिले में एक-एक कोरोना सक्रमित मरीज की पुष्टि हुई। इसके साथ ही राज्य में कोविड-19 पॉजिटिव मरीजों की संख्या बढ़कर 613 हो गयी है।
पूर्वी सिंहभूम जिले में 10 कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की पहचान हुई है। संक्रमित लोगों में से 9 संस्थागत क्वारंटाइन में थे वहीं एक संक्रमित पूर्व में टाटा मोटर्स हॉस्पिटल में भर्ती थे। कोरोना संक्रमण होने की पहचान होने पर सभी संक्रमितों को टीएमएच के कोविड वार्ड में भर्ती कराया जा रहा है।
इधर,रांची स्थित रिम्स के लैब में भी 640 कोरोना संक्रमित मरीजों की रिपोर्ट आयी, इसमें चार मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी, जबकि शेष 636 मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव आयी। इससे पहले आज रांची में आईआईएम के एक कर्मचारी के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। युवक को संदिग्ध पाए जाने पर रांची के कोविड-19 वार्ड लाया गया ।हजारीबाग जिला में 3 नए कोरोना संक्रमित मिलने की पुष्टि हुई है। सिविल सर्जन डॉ संजय कुमार जायसवाल ने बताया गया कि संक्रमितों में से एक विष्णुगढ़ के गोविंदपुर का है, दूसरा पदमा प्रखंड के कुटीपीसी के नवादा का जबकि तीसरा नगर निगम क्षेत्र का रहनेवाला है। इसमें एक महिला भी शामिल है। दो संक्रमित हजारीबाग मेडिकल कॉलेज अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड में है, वहीं तीसरा विष्णुगढ़ के गोविन्दपुर क्वारेन्टीन सेंटर में रह रहा है। तीनों को इलाज के लिए हजारीबाग मेडिकल कॉलेज अस्पताल में लाया जा रहा है। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्या 71 हो गई है, इसमें से 20 पूरी तरह ठीक होकर घर भेजे जा चुके हैं। सक्रिय मामलों की संख्या 51 रह गई है। आज मिले तीनों संक्रमित बाहर से लौटे हैं।
लोहरदगा के एक कोरोना पॉजिटिव मरीज ने प्राइवेट लैब में अपनी जांच कराई थी, जहां उसका रिपोर्ट पॉजिटिव आया है। वहीं देर शाम साहेबगंज में दो और धनबाद में एक कोरोना ंसक्रमित मरीज की पुष्टि हुई
झारखंड में कोरोना संक्रमित 613मरीजों में से 256 स्वस्थ होकर घर लौट चुके है, जबकि 336सक्रिय मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। वहीं पांच कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो चुकी है। राज्य में अब तक 65 हजार से कोविड-19 जांच हो चुकी है,जिसमें सबसे अधिक 129 रांची जिले में मरीज मिले, लेकिन इनमें से 106 स्वस्थ हो चुके है और मात्र 21 सक्रिय है। इधर, पूर्वी सिंहभूम जिला भी शतक के नजदीक पहुंच चुका है।

हिन्दपीढ़ी को पूर्ण रूप से कंटेन्मेंटज़ोन से मुक्त करने का फैसला
28 दिनों से नहीं मिला है कोई भी कोरोना संक्रमित मरीज
रांची। कोविड-19 के संभाव्य प्रसार को रोकने के लिए कॉन्टेनेमेंट ज़ोन घोषित किए गए हिन्दपीढ़ी को कंटेन्मेंट क्षेत्र से मुक्त करने के संबंध में रविवार को उपायुक्त रांची की अध्यक्षता में जिला आपदा प्रबंधन समिति की बैठक आयोजित की गई. आयोजित बैठक में सरकार की गाइडलाइन के मुताबिक हिन्दपीढ़ी के सभी क्षेत्रों को कॉन्टेनेमेंट क्षेत्र से मुक्त करने का फैसला किया गया.
आयोजित बैठक में हिन्दपीढ़ी को पूर्ण रूप से कॉन्टेनमेन्ट क्षेत्र से मुक्त करने के संबंध में विभिन्न विषयों पर विचार विमर्श किया गया. 27 मई को हिन्दपीढ़ी के कई क्षेत्रों को कंटेन्मेंट ज़ोन से मुक्त कर दिया गया था. आज बचे हुए क्षेत्रों के बारे में फैसला लिया गया. सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के मुताबिक ऐसे क्षेत्र जहां 28 दिनों तक कोई भी मामला सामने नहीं आया हो उस क्षेत्र को कॉन्टेनेमेंट ज़ोन से मुक्त करने की अनुशंसा की गई है.
जिला आपदा प्रबंधन समिति के समक्ष पेश किए गए रिपोर्ट के मुताबिक हिन्दपीढ़ी के क्षेत्र में आखिरी बार कोई मामला 28 दिन पहले सामने आया था. इसके अतिरिक्त पूरे क्षेत्र में मेडिकल स्क्रीनिंग का कार्य भी पूरा कर लिया गया है. ऐसे संभावित लोग जिनमें कोरोना जैसे लक्षण पाए गए थे, उन सभी के रिपोर्ट भी नेगेटिव पाए गए हैं. अतः 28 दिनों तक हिन्दपीढ़ी के वैसे क्षेत्र जो अभी तक कॉन्टेनेमेंट ज़ोन के तहत सील क्षेत्र में मार्कड थे, उनमें कोई मामला देखने को नहीं मिला है. जिसके आधार पर बचे हुए पूरे क्षेत्र को भी अब सील एरिया से मुक्त किया जाता है.
बैठक के उपरांत उपायुक्त राय महिमापत रे ने आमजनों से अपील करते हुए कहा कि, “हिन्दपीढ़ी को कंटेन्मेंट ज़ोन से मुक्त किए जाने के बाद लॉकडाउन के सभी नियम वहां शहर के अन्य हिस्सों की तरह लागू रहेंगे. कोई भी लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन ना करें. इससे आप खुद की और दूसरों की सुरक्षा भी कर पाएंगे. सोशल डिस्टैनसिंग का पूर्ण अनुपालन सभी पब्लिक प्लेस पर लागू होगा.“

Recent Posts

%d bloggers like this: