December 6, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

तंगहाली और भूख से परेशान श्रमिकों को शिवशिष्य परिवार ने पहुंचाई राहत

राँची:- भूख का कोई धर्म नहीं होता-(अररिया जिले के मो, रफीक, इकराम, तासो बेगम,शहनाज़, रिजवान, सलमान, शाजिया खातून , रहमतुल्लाह आदि 18 श्रमिक पिछले 2 महीने से नोयडा सेक्टर 63 में फसे हुए हैं। इनलोगों के पास अपनी व्यवस्था से घर आने के लिए पैसे भी नहीं बचे और न राशन पानी की कोई व्यवस्था थी। अपनी व्यथा लेकर ये सभी स्थानीय प्रशासन के पास भी गए। इनकी मदद तो दूर किसी ने इनकी व्यथा भी ना सुनी और ना ही भोजन पानी का कोई जुगाड़ हो पाया।
थक हार कर ये सभी पैदल ही घर कि ओर निकल पड़े।नजदीकी बस अड्डा पहुंचने पर पुलिस वालों ने इन्हें वहाँ से भी खदेड़ दिया और कहा कि बिना परमिशन के नही जा सकते।

फिर कहीं से इन्हें शिव शिष्य परिवार मुख्यालय राँची का नम्बर मिला और वहाँ फोन करके मदद की गुहार लगाई। शिव शिष्य परिवार के मुख्य सलाहकार श्री अर्चित आनंद ने त्वरित कार्रवाई करते हुए दिल्ली के स्थानीय शिवशिष्यों से संपर्क साधा तथा अविलम्ब राहत पहुंचाने को कहा।
श्री अर्चित आनन्द के निर्देशानुसार स्थानीय शिवशिष्यों ने इन्हें भोजन सामग्री जिसमे चावल 1 पैकेट,आटा 1 पैकेट,दाल,आलू,प्याज,नमक,हल्दी व मसाले के साथ 1 दर्जन बिस्किट का पैकेट सर्फ़,साबुन टूथपेस्ट शैम्पू ,चाय इत्यादि पहुँचाई साथ ही नगद राशि भी दिलवाई और कहा कि जब तक आपके जाने की कोई अनुकूल व्यवस्था नहीं हो जाती तब तक आपलोग जहाँ हैं वहीं रहे।पैदल जाने की चेष्टा ना करें। समय समय पर आपको राशन पानी मुहैया करा दी जाएगी।

Recent Posts

%d bloggers like this: