November 26, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

खुदा को राज़ी करो ताकी इबादतगाहे आबाद हो जाये

राँची:- ऑल इंडिया शिया पर्सनल लॉ बोर्ड झारखंड के चेयरमैन सह मस्जिद जाफरिया रांची के इमाम मौलाना सैयद तहजीबुल हसन रिजवी ने कहा कि इस्लामी महीनो का पवित्र और मुबारक महीना रमजान है। आज से पहले जब मुसलमान रमज़ान का चांद देखता था तो भारत और दुनिया की दुनिया की हर गलियों में एक बहार सी आ जाती थी। मस्जिदें नमाजियों से छलक उठती थी। बाजार में लोग उमड़ पड़ते थे। मगर इस वर्ष का रमजान का चांद देखने के बाद हर मुसलमान के चेहरे पर उदासी है। क्यों ना हो हमारी इबादतगाहे सुनी है। इसे किसी ने जानबूझकर सुना नहीं किया। बल्कि एक करोना जैसे वायरस ने अपना कहर दुनिया पर इतना बरसाया के सारे धर्म के मानने वाले ने अपने धर्म स्थल से वंचित हो चुके हैं। हर देश की सरकारों ने लोकड़ोंन कर दिया है। जो इंसानों की सुरक्षा के कारण किया है। सरकारी आदेश का पालन करना धर्म का एक हिस्सा है। यही कारण है कि हम सब धर्म स्थलों के बजाए हम।अपने घरों में इबादत करने को मजबूर है। इससे सिर्फ मुसलमानों को नहीं बल्कि हर इंसान को अल्लाह की इबादत करनी चाहिए। ताकि वह हमारे गुनाहों को माफ कर दे। यह महीना तौबा का महीना है। इस महीने में अगर हमने अपने खुदा को राज़ी नही किया तो फिर राज़ी करना बड़ा मुश्किल होगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: