December 3, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

झारखण्ड में कांग्रेस की महिला विधायक के व्यवहार से परेशान होकर पाँच थाना के थानेदार सहित पुलिसकर्मियों ने एसपी से दूसरे जगह बदली करने की मांग

गोड्डा:- महागामा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस के विधायक दीपिका पांडे सिंह के व्यवहार से नाराज, गोड्डा जिले के पांच थाना के प्रभारी और पुलिसकर्मी ने जिले के एसपी और पुलिस एसोसिएशन को पत्र लिखकर खुद का स्थानांतरण करने की मांग की है।

गोड्डा जिले के महागामा विधानसभा क्षेत्र में परने वाले मेहरमा,महागामा, हनवारा,बेलवाअड्डा और ठाकुर गंगटी के थाना प्रभारी और सभी पुलिसकर्मियों ने गोड्डा एसपी और झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन और झारखंड पुलिस एसोसिएशन को पत्र लिखकर कहा है कि हम सभी पुलिसकर्मियों और पदाधिकारियों को महागामा विधानसभा क्षेत्र के थाना से दूसरे जगह स्थानांतरण करने की कृपा की जाए ताकि हम सभी विधि सम्मत सरकारी कार्य करते हुए अपने आत्मसम्मान को बचा सकें।

मेहरमा,महागामा,हनवारा बेलवाअड्डा और ठाकुर गंगटी के थाना प्रभारी और सभी पुलिसकर्मियों ने गोड्डा एसपी और झारखंड पुलिस मेंस एसोसिएशन और झारखंड पुलिस एसोसिएशन को पत्र लिखकर कहा की महागामा विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के प्रत्याशी श्रीमती दीपिका पांडे सिंह निर्वाचित हुई है।इनके निर्वाचित होने के बाद से थाना क्षेत्र में माननीय विधायक एवं विधायक के कार्यकर्ताओं के द्वारा विधायक का धौंस दिखाकर हमेशा हमारा और हमारे अधीनस्थ पुलिसकर्मियों के आत्म सम्मान को ठेस पहुंचाते रहते हैं। जिससे विधि सम्मत कार्य करने में काफी कठिनाई होती है। साथ ही वर्तमान समय में कोरोना महामारी के दौरान लॉक डाउन के अनुपालन कराने के क्रम में विधायक के कार्यकर्ताओं के द्वारा लॉक डाउन को तोड़ा जाता है। और उनको समझाने और मना करने पर माननीय विधायक एवं उनके कार्यकर्ताओं के द्वारा पुलिस के साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है।

मेहरमा,महागामा,हनवारा बेलवाअड्डा और ठाकुर गंगटी के थाना प्रभारी और सभी पुलिसकर्मियों पत्र लिखकर कहां की विधायक एवं उनके कार्यकर्ताओं के द्वारा बार-बार निलंबित कराने की धमकी दिया जाता है जिससे थाना पर पदस्थापित पुलिस अधिकारी और कर्मी के आत्मसम्मान को ठेस पहुंचता है।और कार्य स्थल पर कार्य करने में काफी परेशानी उत्पन्न होती है। इससे पुलिस पदाधिकारी और पुलिसकर्मियों का भावना काफी आहत है एवं मनोबल भी काफी नीचे गिरा हुआ है। महागामा विधानसभा क्षेत्र के थाना से दूसरे जगह स्थानांतरण करने की कृपा की जाए।ताकि हम सभी विधि सम्मत सरकारी कार्य करते हुए अपने आत्मसम्मान को बचा सकें।

मिली जानकारी के अनुसार पत्रकार अर्णब गोस्वामी के द्वारा दिए गए बयान के बाद बुधवार की रात विधायक दीपिका पांडे सिंह के द्वारा महागामा थाना में अर्नब गोस्वामी के ऊपर एफआईआर दर्ज करने गई थी।इसके बाद थाना प्रभारी ने कहा मैं अपने ऊपर के अधिकारी से बात करके फिर एफआईआर कर लेंगे।  इसी दौरान विधायक के 50 से ज्यादा समर्थक थाना का घेराव कर लिए। इसके बाद में मेहरमा थाना में पुलिस के वरीय अधिकारी पहुंचे और एसपी भी पहुंचे। इसके बाद विधायक दीपिका पांडे थाना में धरने पर बैठ गई। एसपी के पहुंचने के बाद एफ आई आर दर्ज हो गया इसके बाद विधायक ने कहा कि हम थानेदार के यहां से एफआईआर का कॉपी नहीं लेंगे। हम एसपी के यहां से एफआईआर का कॉपी लेंगे। एसपी के द्वारा विधायक को एफआईआर कॉपी देने के बाद विधायक ने कहा कि,थाना प्रभारी को सस्पेंड कीजिए। इसके बाद एसपी ने इसमें अपनी असमर्थता जाहिर की लेकिन विधायक ने कहा कि अभी ही सस्पेंड करना होगा।

Recent Posts

%d bloggers like this: