December 1, 2020

अनावरण न्यूज़

एक नयी सुबह का

उपवास करना है तो केंद्र के खिलाफ करें भाजपाई, जिसकी नीतियों ने मजदूरों को रख रखा है कैद: के एन त्रिपाठी

राँची :- भाजपा नेताओं के उपवास को राजनीति करार देते हुए पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने कहा कि बीजेपी नेताओं को अगर उपवास करना ही है तो वे केंद्र सरकार के खिलाफ करें क्योंकि केंद्र की सरकार ने ही 21 दिनों के Querantine पीरियड समाप्त होने के बाद भी 1 करोड़ों से ज़्यादा लोगों को अभीतक डिटेंशन में कैद रख रखा है।

पूर्व मंत्री ने कहा कि चूंकि अभीतक केंद्र सरकार ने देशभर में फँसे लोगों को लाने संबंधित कोई सरकरी ऑर्डर ज़ारी नहीं की है न ही यातायात के लिए कोई इंतेजाम किये हैं ऐसे में राज्य सरकार के पास कोई विकल्प नहीं बचता जिससे की लोगों को वापस बुलाया जा सके, ऐसे में भाजपा द्वारा यह उपवास इस महामारी के समय में राजनीति के अलावा और कुछ भी नहीं है। ऐसे समय मे इन्हें सरकार को हरसंभव सहयोग करना चाहिए था परंतु ये लोग राजनीति पर उतर आये उन्होंने कहा।

श्री त्रिपाठी ने एकबार फिर केंद्र सरकार से यह अपील की कि राज्य के बाहर फँसे लोगों को वापस लाने के लिए केंद्र सरकार यातायात संबंधित निर्णय ले ताकि स्पेशल ट्रेन व बस के जरिए लोगों को उनके गंतव्य तक पहुँचाया जा सके। विदित हो कि पिछले हफ़्ते भी श्री त्रिपाठी मजदूरों व बाहर फँसे लोगों को लाने के लिए स्पेशल ट्रेन व यातायात की सुविधा बहाल करने की अपील केंद्र सरकार से कर चुके हैं ताकि लॉकडाउन खत्म होने से पहले ही इन्हें इनके जिलों में Querantine की अवधि पूरा कराकर सकुशल उनके घरों तक पहुँचाया जा सके।

Recent Posts

%d bloggers like this: